छग : दंतेवाड़ा में नक्सलियों के पीएलजीए सप्ताह के कारण अलर्ट

छग : दंतेवाड़ा में नक्सलियों के पीएलजीए सप्ताह के कारण अलर्ट
IANS
अभी - अभी
Published:
छग : दंतेवाड़ा में नक्सलियों के पीएलजीए सप्ताह के कारण अलर्ट

दंतेवाड़ा, 2 दिसम्बर (आईएएनएस/वीएनएस)। छत्तीसगढ़ में नक्सलियों के पीएलजीए (पीपुल्स लिबरेशन ऑफ गुरिल्ला आर्मी) सप्ताह के कारण जिले के सभी थानों में अलर्ट जारी कर दिया गया है। इस दौरान किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना को रोकने के लिए पुलिस लगातार सर्च ऑपरेशन चला रही है।

नक्सली 2 से 8 दिसंबर तक पीएलजीए सप्ताह मनाएंगे।

दक्षिण बस्तर में नक्सलियों ने 2 से 8 दिसंबर तक पीएलजीए सप्ताह की 10वीं वर्षगांठ मनाने का ऐलान किया है। इसके कारण दंतेवाड़ा जिले में पुलिस ने सभी थानों में अलर्ट जारी कर किसी प्रकार की अप्रिय घटना को रोकने के लिए तैयारी शुरू कर दी है।

पुलिस ने इलाके की सचिर्ंग तेज करते हुए गश्त बढ़ा दी है। क्षेत्र के अंदरूनी इलाकों में ड्रोन के माध्यम से नजर रखी जा रही है। पुलिस ग्रामीणों को नक्सलियों से दूर रखने के लिए संदिग्धों पर कार्रवाई कर रही है।

पीएलजीए सप्ताह के दौरान नक्सली अपनी रणनीति के तहत गांव-गांव में जाकर युवाओं को संगठन से जोड़ने, ग्रामीणों को मुखबिरी के लिए तैयार करने, संगठन को मजबूत करने और किसी घटना को अंजाम देने की तैयारी करते हैं।

नक्सली आम सभा के जरिए आदिवासी इलाकों में अपना दबदबा कायम रखने का काम करते हैं। इस बार पीएलजीए सप्ताह में नक्सली खास तैयारी में नजर आ रहे हैं। उन्होंने हाल ही में सुकमा और बीजापुर में अपने कई साथियों को पुलिस मुठभेड़ में खोया है। दंतेवाड़ा में कुछ दिन पहले 10 नक्सलियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

दन्तेवाड़ा पुलिस अधीक्षक अभिषेक पल्लव ने कहा कि नक्सलियों ने पीएलजीए सप्ताह मनाने का पर्चा जारी किया है, जिसमें उन्होंने पीएलजीए को मजबूत करने की बात कही है। पर्चे में नक्सलियों ने लिखा है कि उन्हें पुलिस से काफी नुकसान हुआ है। सुकमा में पिछले दिनों हुए मुठभेड़ में भी 9 नक्सलियों के मारे जाने में सभी सीनियर नक्सली शामिल हैं। पीएलजीए सप्ताह में नक्सली घात लगाकर हमला करने व आईईडी ब्लास्ट करने की कोशिश करेंगे। इस नजरिए से दन्तेवाड़ा की सभी सड़कों पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: undefined

SCROLL FOR NEXT