शेयर बाजार पर कोरोना की मार, फिर भी इन शेयरों ने बनाया पैसा

निफ्टी 50 इंडेक्स इस हफ्ते 1.46% कमजोर हुआ.

Published
NSE Nifty top gainers this week ended 16 April
i

बीते हफ्ते भारतीय शेयर बाजार का प्रदर्शन एक बार फिर आशा अनुरूप नहीं रहा. कोरोना के रिकॉर्ड मामलों के कारण बढ़ते प्रतिबंधों से निवेशकों में चिंता रही. सोमवार 12 अप्रैल को सेंसेक्स में करीब 3.4% की बड़ी गिरावट के बाद बाजार अगले तीन सेशन में हरे निशान में रहा. आइए नजर डालते हैं बाजार में बेयर्स की पकड़ के बावजूद अच्छी कमाई देने वाले निफ्टी के टॉप 5 शेयर पर-

इस हफ्ते निफ्टी के कुल 50 में से केवल 16 शेयर नेट आधार पर चढ़े.

सिप्ला (शेयर प्राइस- 938.05 | कुल उछाल- 6.23%)-

मुंबई हेड क्वार्टर वाली फार्मा कंपनी सिप्ला अनेक देशों में व्यापार में सक्रिय होने के साथ सबसे ज्यादा पब्लिक्ली ट्रेड होने वाली कंपनियों में से एक है. बीते 1 वर्ष में शेयर बाजार में 56% मजबूत होने वाली इस कंपनी का मार्केट कैप 75,650 करोड़ रुपयों का है. दिसंबर तिमाही में सिप्ला का नेट प्रॉफिट बढ़ते हुए सितम्बर तिमाही के 661 करोड़ की तुलना में 752 करोड़ रहा.

विप्रो (शेयर प्राइस- 469.20 | कुल उछाल- 4.24%)-

बेंगलुरु मुख्यालय वाली विप्रो IT और बिजनेस सर्विस मुहैया कराने वाली एक मल्टीनेशनल कंपनी है. 2,57,081 करोड़ के मार्केट कैप वाले इस कंपनी के शेयर ने पिछले 1 साल में 150% का जबरदस्त रिटर्न दिया है. विप्रो का नेट प्रॉफिट मार्च तिमाही में दिसंबर तिमाही के 2987 करोड़ के करीब रहते हुए 2973 करोड़ रहा.

निफ्टी 50 इंडेक्स इस हफ्ते 1.46% कमजोर हुआ.

महिंद्रा एंड महिंद्रा (शेयर प्राइस- 821.65 | कुल उछाल- 3.86%)-

मुंबई मुख्यालय वाली महिंद्रा एंड महिंद्रा भारतीय मल्टीनेशनल ऑटोमेटिव मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है. ₹1,02,146 करोड़ के मार्केट कैप वाले इस कंपनी के शेयर में पिछले 52 हफ्तों में 130% की अच्छी तेजी देखी गई है. दिसंबर क्वार्टर में महिंद्रा एंड महिंद्रा का नेट लॉस सितम्बर के 96 करोड़ की तुलना में बढ़कर 272 करोड़ हो गया.

ONGC (शेयर प्राइस- 107.30 | कुल उछाल- 3.37%)-

पेट्रोलियम एवं नेचुरल गैस मंत्रालय के अंतर्गत आने वाली यह महारत्न कंपनी भारत की सबसे बड़ी ऑयल एवं गैस उत्पादक कंपनी है. 1,34,986 करोड़ के मार्केट कैप वाले ONGC के शेयर ने पिछले 1 साल में 42% की उछाल देखी है. कंपनी का नेट प्रॉफिट दिसंबर क्वाटर में सितम्बर तिमाही के 5150 करोड़ से घटकर 3512 करोड़ रहा.

कुछ जाने माने शेयर जैसे बजाज फाइनेंस, ग्रसिम, इंडसइंड बैंक, अडानी पोर्ट्स, इंफोसिस के शेयर इस हफ्ते 5% से भी ज्यादा कमजोर हुए.

डॉ रेड्डी लैब्स (शेयर प्राइस- 4893.25 | कुल उछाल- 2.79%)-

हैदराबाद में बेस्ड डॉ रेड्डी लैब्स मल्टीनेशनल फार्मा कंपनी है. अंतिम 12 महीनों में 26% का मुनाफा देने वाली इस कंपनी का मार्केट कैप 81,375 करोड़ का है. दिसंबर तिमाही में कंपनी का कंसोलिडेटेड नेट प्रॉफिट सितम्बर के 764 करोड़ की तुलना में घटकर 12 करोड़ पर पहुंच गया.

उपरोक्त टॉप 5 शेयरों के अलावा हिंडालको, सन फार्मा, HDFC, बजाज फिनसर्व, इत्यादि शेयरों में इस हफ्ते अच्छी तेजी रही.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!