WPI आधारित महंगाई में मई के दौरान 3.21 फीसदी की गिरावट

खाद्य पदार्थों की महंगाई पर हुआ ये असर 

Published15 Jun 2020, 09:27 AM IST
बिजनेस न्यूज
1 min read

थोक मूल्य सूचकांक (WPI) आधारित महंगाई में मई के दौरान 3.21 फीसदी की गिरावट रही. कॉर्मस एंड इंडस्ट्री मिनिस्ट्री के मुताबिक, ‘‘मासिक थोक मूल्य सूचकांक आधारित महंगाई की सालाना दर मई 2020 के दौरान 3.21 फीसदी निगेटिव (प्रोविजनल) रही, जो एक साल पहले इसी महीने के दौरान 2.79 फीसदी थी.’’

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, मिनिस्ट्री के आधिकारिक बयान में कहा गया है कि अप्रैल में सीमित सूचना उपलब्ध होने की वजह से मई के प्रोविजनल आंकड़ों की तुलना मार्च के फाइनल आंकड़ों के साथ की गई है. 

दरअसल डिपार्टमेंट ऑफ प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड (DPIIT) देश में लागू कोरोना लॉकडाउन की वजह से अप्रैल के लिए थोक मूल्य का डेटा संग्रहित नहीं कर पाया था.

बात खाद्य पदार्थों की महंगाई की करें तो ये मई के दौरान 1.13 फीसदी रही, जबकि अप्रैल में यह 2.55 फीसदी थी. फ्यूल और पावर बास्केट में मई के दौरान 19.83 फीसदी अवस्फीति (डिफ्लेशन) रही, अप्रैल में इसमें 10.12 फीसदी की गिरावट रही थी. बता दें कि मुद्रास्फीति की विपरीत स्थिति को अवस्फीति कहते हैं. मैन्युफेक्चर्ड प्रोडक्ड्स ने भी मई के दौरान 0.42 फीसदी का डिफ्लेशन देखा.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!