बाजार में एक दिन में दशक की सबसे बड़ी तेजी, सेंसेक्स 1862 अंक उछला
शेयर बाजार में एक दिन की सबसे बड़ी तेजी 
शेयर बाजार में एक दिन की सबसे बड़ी तेजी फोटो : द क्विंट

बाजार में एक दिन में दशक की सबसे बड़ी तेजी, सेंसेक्स 1862 अंक उछला

घरेलू शेयर बाजारों सेंसेक्स और निफ्टी में बुधवार को जोरदार तेजी आई. यह किसी एक दिन में एक दशक की सबसे बड़ी तेजी है. वैश्विक बाजारों में मजबूती और कोरोनावायरस महामारी से निपटने के लिये सरकार के प्रोत्साहन पैकेज की उम्मीद में बाजार में उछाल आया.

Loading...

एक दिन में दशक की सबसे बड़ी तेजी

BSE सेंसेक्स में कारोबार की शुरूआत में उतार-चढ़ाव देखा गया. पर अंत में यह 1,861.75 अंक यानी 6.98 प्रतिशत मजबूत होकर 28,535.78 अंक पर बंद हुआ.

इसी तरह, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 516.80 अंक यानी 6.62 प्रतिशत मजबूत होकर 8,317.85 अंक पर बंद हुआ. दोनों इंडेक्स में यह तेजी किसी एक दिन में एक दशक की सबसे बड़ी तेजी है. वैश्विक बाजारों में तेजी का भी घरेलू बाजार पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा. अमेरिका में सरकार और संसद के ऊपरी सदन सीनेट के बीच अमेरिकी अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए 2,000 अरब डॉलर की घोषणा से वैश्विक बाजारों में तेजी आई.

  • सेंसेक्स के शेयरों में रिलायंस इंडस्ट्रीज सबसे फायदे में रही. कंपनी का शेयर 15 प्रतिशत मजबूत हुआ. उसके बाद कोटक बैंक, मारुति, HDFC बैंक , टाइटन, एल एंड टी और एक्सिस बैंक का स्थान रहा.
  • वहीं दूसरी तरफ इंडसइंड बैंक, ओएनजीसी, आईटीसी और बजाज ऑटो नुकसान में रहे.

सभी सेक्टोरियल इंडेक्स में तेजी रही. पावर, फाइनेंस, बैंक,ऑटो और आयल एंड गैस सूचकांकों में 10 प्रतिशत तक की तेजी आई.

कोरोना को लेकर लॉकडाउन की घोषणा से अनिश्चितता कम हुई है. साथ ही सरकार के प्रोत्साहन उपायों के आश्वासन से निवेशकों में भरोसा बढ़ा है. प्रधानमंत्री ने मंगलवार को कोरोनावायरस संकट से निपटने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन की घोषण की है.
नरेंद्र सोलंकी , इक्विटी रिसर्चर

अमेरिकी घोषणा के बाद बाजार में आई तेजी

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मंगलवार को कहा कि सरकार अर्थव्यवस्था को कोरोनावायरस के प्रकोप से उबारने के लिए जल्द ही वित्तीय पैकेज की घोषणा करेगी.

व्हाइट हाउस और सीनेट के बीच कोरोनोवायरस महामारी के अमेरिकी अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रभाव से निपटने के लिये 2,000 अरब डॉलर के प्रोत्साहन पैकेज से जुड़े विधेयक पर सहमत होने से वैश्विक बाजारों में तेजी आई. जिसका असर भी घरेलू बाजार पर पड़ा.

एशिया के दूसरे बाजारों में भी दिखी तेजी

एशिया के दूसरे बाजारों में चीन के शांघाई, हांगकांग, जापान के टोक्यो और दक्षिण कोरिया के सोल बाजार के इंडेक्स 8 प्रतिशत तक मजबूत हुए.

शुरुआती कारोबार में यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी 4 प्रतिशत तक की तेजी चल रही थी. इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड का भाव 0.07 प्रतिशत मजबूत होकर 27.17 डॉलर बैरल पर पहुंच गया.

घरेलू मुद्रा बाजार गुड़ी पड़वा के अवसर पर बुधवार को बंद है.

इधर, स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़े के अनुसार देश में कोरोनावायरस संक्रमण मामलों की संख्या बढ़कर 560 के पार पहुंच गई है जबकि मरने वालों की संख्या 10 हो गई है.

वहीं दुनिया में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 4,20,000 हो गई है जबकि 18 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है.

ये भी पढ़ें : डॉक्टरों-नर्सों से बुरा बर्ताव आपको महंगा पड़ सकता है- PM मोदी

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our बिजनेस न्यूज section for more stories.

    Loading...