ADVERTISEMENT

मुंबई की 85% से ज्यादा आबादी में कोविड-19 एंटीबॉडी मौजूद: BMC सीरो सर्वे

पांचवें और नवीनतम सर्वे में 8,674 लोगों को शामिल किया गया, 12 अगस्त से 8 सितंबर के बीच हुआ सर्वे

Published
<div class="paragraphs"><p>मुंबई में कोरोना वायरस </p></div>
i

अगस्त 2021 में मुंबई में बृहन्मुंबई नगर निगम (BMC) द्वारा किए गए पांचवें सीरो सर्वे (Sero Survey) के नतीजों से पता चला है कि सर्वे में शामिल 8,674 लोगों में से 86.64 % में कोविड -19 वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी मौजूद हैं.

ADVERTISEMENT

सीरो सर्वे में एंटीबॉडी के यह नतीजे मुंबई के लिए काफी राहत भरे हैं, क्योंकि यह मार्च 2021 में किए गए तीसरे सीरो-सर्वे से काफी अधिक हैं. तब पाया गया था कि सर्वे में शामिल सिर्फ 36.3 प्रतिशत लोगों में कोविड -19 के खिलाफ एंटीबॉडी था.

पांचवें और नवीनतम सर्वे में 8,674 लोगों को शामिल किया गया है. इसमें स्लम एरिया में 87.02 प्रतिशत और नॉन-स्लम एरिया में 86.22 प्रतिशत सीरो पॉजिटिविटी रेट पायी गयी.

यह पहली बार है कि शहर में स्लम और नॉन-स्लम आबादी की सीरो पॉजिटिविटी में मामूली अंतर है. इस साल मार्च में किए गए तीसरे सीरो सर्वे में स्लम एरिया में 41.6 प्रतिशत और नॉन-स्लम एरिया में 28.5 प्रतिशत सीरो पॉजिटिविटी रेट पायी गयी थी .

व्यापक वैक्सीनेशन प्रोग्राम का असर 

नवीनतम सीरो-सर्वे इस साल 12 अगस्त से 8 सितंबर के बीच कंडक्ट किया गया है. इस सीरो-सर्वे में वैक्सीन लेने वाली आबादी भी शामिल थी.

बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन प्रोग्राम के कारण इस सर्वे में BMC को प्रति केंद्र एंटीबॉडी बढ़ने की उम्मीद थी. सर्वेक्षण में पाया गया कि वैक्सीन के एक और दोनों डोज लगाए लोगों में एंटीबॉडी 90.26 प्रतिशत है, जबकि वैक्सीन नहीं लेने वालों में 79.86 प्रतिशत.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT