दक्षिण अफ्रीका ने SII से COVID वैक्सीन वापस लेने को कहा: रिपोर्ट

ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की COVID-19 वैक्सीन बना रहा है सीरम इंस्टीट्यूट

Updated
सांकेतिक तस्वीर
i

दक्षिण अफ्रीका ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) से COVID-19 वैक्सीन की वो 10 लाख खुराकें वापस लेने के लिए कहा है, जिनको कंपनी ने फरवरी की शुरुआत में भेजा था. द इकनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी गई है.

बता दें कि ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की COVID-19 वैक्सीन बना रही SII कंपनी एक मुख्य वैक्सीन सप्लायर के तौर पर उभरी है. पिछले हफ्ते ही दक्षिण अफ्रीका में इस वैक्सीन की 10 लाख खुराकें पहुंची थीं, इसके अलावा अगले कुछ हफ्तों में 5 लाख और खुराकें भी वहां पहुंचनी थीं.

इकनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट ऐसे वक्त में सामने आई है, जब विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने सोमवार को ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की COVID-19 वैक्सीन को इमरजेंसी यूज के लिए मंजूरी दी है.

दक्षिण अफ्रीका क्यों नहीं कर रहा एस्ट्राजेनेका वैक्सीन का इस्तेमाल?

एक हफ्ते पहले दक्षिण अफ्रीका ने ऐलान किया था कि वो अपने टीकाकरण अभियान में ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका की COVID-19 वैक्सीन के इस्तेमाल पर रोक लगाएगा.

एक छोटे से क्लिनिकल ट्रायल में यह सामने आने के बाद कि यह वैक्सीन दक्षिण अफ्रीका में चिंता का विषय बने कोरोना वायरस के नए वेरिएंट की वजह से होने वाली हल्की से मध्यम स्तर की बीमारी के खिलाफ कम सुरक्षा देती है, वहां के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा था कि सरकार एस्ट्राजेनेका वैक्सीन की खुराकों को बेच भी सकती है.

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, इस अफ्रीकी देश, जिसे अपने COVID-19 टीकाकरण कार्यक्रम की शुरुआत करनी है, ने शोधकर्ताओं के साथ 'इम्प्लीमेंटेशन स्टडी' के तौर पर हेल्थ वर्कर्स को जॉनसन एंड जॉनसन की वैक्सीन लगाने का फैसला किया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!