चिराग फिर मांग रहे BJP के लिए वोट-बिहार चुनाव की 5 खबरें

बिहार चुनाव 2020 की ताजा पांच खबरें

Published
बिहार चुनाव 2020
3 min read
बिहार चुनाव 2020 की ताजा पांच खबरें
i

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए सभी पीर्टियों ने कमर कस ली है. इस क्रम में ग्रैंड युनाइटेड सेक्युलर फ्रंट भी प्रदेश में अपनी रैलियों की शुरूआत करने जा रही है. महागठबंधन से एनडीए में शामिल हुए वीआइपी सुप्रीमो मुकेश सहनी पर टिकट का सौदा करने के आरोप लगा है. बिहार चुनाव 2020 (Bihar Assembly Election) से जुड़े अपडेट्स पढ़ने की इससे बढ़िया जगह कोई नहीं. तो ये रहीं Quint बिहार चुनाव के इस एडिशन की पांच खबरें.

1.सीएम की कुर्सी तक नितीश कुमार का रास्ता साफ

भाजपा ने बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार को दोबारा सीएम की कुर्सी पर बैठने के लिए हरी झंडी दिखा दी है. दरअसल गृह मंत्री अमित शाह ने एक टीवी इंटरव्यू में इस बात को साफ किया है कि भले ही चुनाव में भाजपा को जेडीयू से अधिक वोट मिले लेकिन नीतीश कुमार ही सीएम बनेंगे. उन्होंने कहा पीएम मोदी एनडीए के सबसे बड़े नेता हैं. बिहार चुनाव का नेतृत्व नीतीश कुमार कर रहे हैं इसमें कोई अगर मगर नहीं कि वही सीएम होंगे.

शाह ने कहा कि लोजपा को उचित सीटें ऑफर की गई थी. गठबंधन समझौते पर चलता है लेकिन चिराग ने अपनी मर्जी से साथ छोड़ा है. हालांकि कितनी सीटें ऑफर की गईं, यह बात उन्होंने सार्वजनिक नहीं की.

2. नीतीश की साइकिल योजना से एक कदम आगे पप्पू यादव

गया में पप्पू यादव ने कहा कि उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए लड़कियों को स्कूटी और लड़कों को बाइक देंगे
गया में पप्पू यादव ने कहा कि उच्च शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए लड़कियों को स्कूटी और लड़कों को बाइक देंगे
फोटो - विकीपीडिया

बिहार चुनाव में सभी नेता जनता से लोक लुभावन वादे कर रहे हैं. इसी क्रम में जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष भी कुछ कम नहीं. दरअसल, नीतीश की साइकिल योजना से एक कदम आगे उन्होंने 10 वीं पास लड़कियों को स्कूटी और लड़कों को बाइक देने का वादा किया है. इसके अलावा बिहार में अपराध का अंत करने के साथ उच्च शिक्षा उनकी प्राथमिकता होगी. चुनाव जीतने पर वह गरीब लड़कियों को 4 हजार प्रोत्साहन राशि देंगे. साथ ही जनता के हित में अस्पताल और स्कूल भी खेलेंगे.

3. बीजेपी के समर्थन में चिराग पासवान, वोट के लिए की अपील

चिराग पासवान को लेकर एक ओर भाजपा नेता हमलावर हैं वहीं चिराग लगातार खुद को भाजपा के साथ जोड़े रखने में लगे हुए हैं. नेशनल शूटर श्रेयसी सिंह इस बार के बिहार विधानसभा चुनाव में जमुई सीट से भाजपा की उम्मीदवार हैं. इसी सीट से लोक जनशक्ति पार्टी के चिराग पासवान सांसद भी हैं. बिहार की इस सीट को काफी अहम माना जा रहा है. हाल ही में चिराग ने ट्वीट कर श्रेयसी सिंह को जीत दिलाने की अपील की है. लेकिन इस ट्वीट में भी वो नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू पर हमला बोलना नहीं भूले. चिराग ने लोजपा के सभी कार्यकर्ताओं से अपील है कि इस बार के चुनाव में श्रेयसी सिंह की मदद करें. एनडीए गठबंधन से अलग होने के बाद चिराग ने नीतीश कुमार पर चुनावी वार करने का एक भी मौका नहीं छोड़ा लेकिन दूसरी ओर भाजपा और पीएम मोदी का समर्थन करते रहे हैं.

4. बिहार में दलित वोटों पर मायावती की नजर

बिहार चुनाव में ग्रैंड यूनाइटेड सेक्युलर फ्रंट (GUSF) भी अब चुनावी रैलियों की शुरुआत करने में जुट गई है. इस गठबंधन में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा, बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख मायावती, (AIMIM) के मुखिया असदुद्दीन ओवैसी और समाजवादी दल (SP) के देवेन्द्र प्रसाद यादव शामिल हैं जो अपने अपने प्रभाव वाले इलाकों में रैलियां करेंगे. पहली रैली 23 अक्टूबर को भभुआ में मायावती करेंगी. मुख्य रूप से यूपी से सटे बिहार के जिलों में माया दलित वोटों को हासिल करने की कोशिश में हैं. जिसका प्रभाव महागठबंधन और एनडीए के वोट बैंक पर पड़ सकता है.  ओवैसी और कुशवाहा की सभाएं भी 26 और 27 अक्टूबर को होंगी.

5.वीआइपी सुप्रीमो मुकेश सहनी पर आरोप

महागठबंधन से एनडीए में शामिल हुए वीआइपी सुप्रीमो मुकेश सहनी पर टिकट का सौदा करने के आरोप लगा है.  शुक्रवार को मुजफ्फरपुर की बोचहां विधानसभा सीट से विधायक बेबी कुमारी ने एक प्रेस कांफ्रेंस में इस तरह का आरोप लगा कर सनसनी फैला दी. रोते हुए उन्होंने कहा कि मुकेश सहनी ने महागठबंधन के एक नेता के हाथों बोचहां सीट का तीन करोड़ आठ लाख में सौदा किया है.  हालांकि उन्होंने अपने इस आरोप के समर्थन में कोई साक्ष्य उपलब्ध नहीं कराया. इससे पहले बनियापुर के पूर्व भाजपा विधायक ने भी मुकेश साहनी पर इसी तरह का आरोप लगाया था. जिसमें उन्होंने दो करोड़ रुपये मांगने की बात कही थी. हालांकि इसका वीआइपी ने पूरी तरह से खंडन किया गया था.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!