फेमिनिज्म पर प्रियंका का ये कमेंट, क्या कंगना की तरफ है इशारा?


प्रियंका चोपड़ा 
प्रियंका चोपड़ा  (फोटो: फेसबुक)

फेमिनिज्म पर प्रियंका का ये कमेंट, क्या कंगना की तरफ है इशारा?

बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड तक अपना सिक्का जमा चुकीं प्रियंका चोपड़ा ने हाल ही में दिए एक इंटरव्यू में खुद को फेमेनिस्ट बाताया. हालांकि उन्होंने कहा कि लोगों को यह नहीं सोचना चाहिए कि इस शब्द का मतलब पुरुषों को धमकाना होता है.

प्रियंका ने वेरायटी डॉट कॉम से कहा,

फेमिनिस्ट होने का मतलब ये नहीं है कि आप पुरुषों को धमकाएं, उनसे नफरत करें या ये कोशिश करें कि हम उनसे बेहतर हैं.

अब प्रियंका के इस बयान को ऋतिक और कंगना विवाद से जोड़कर देखा जा रहा है. हाल ही में फरहान अख्तर और यामी गौतम ऋतिक का सपोर्ट कर चुके हैं. प्रियंका ‘कृष’ में ऋतिक की को-स्टार रह चुकी हैं, इसलिए माना जा रहा है कि वो इनडायरेक्ट ऋतिक का सपोर्ट कर रही हैं.

प्रियंका ने आगे कहा, "फेमिनिस्ट का मतलब ये कि जो फैसले मैं लेती हूं उसके आधार पर आंके बगैर मुझे अवसर दीजिए, जिसकी आजादी पुरुष वर्ग को सदियों से मिली हुई है. फेमिनिज्म को पुरुषों की जरूरत है."

फेमिनिज्म को नकारे जाने पर प्रियंका होती हैं निराश

मेरी बहुत-सी ऐसी दोस्त हैं, जो कहती हैं कि वह फेमिनिस्ट नहीं है. मैं यह समझ नहीं पाती हूं. फेमिनिज्म की जरूरत ही इसलिए है, क्योंकि महिलाओं को समान अधिकार नहीं थे. इसलिए यहां कोई मनुष्यवाद नहीं है, क्योंकि उनके पास यह हमेशा से था."

प्रियंका ने कहा कि उनके माता-पिता ने उनकी परवरिश एक खुले विचार का इंसान बनने के लिए की थी.

(इनपुट IANS से)

(क्विंट हिंदी के वॉट्सऐप चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए.)