7 अजूबे इस दुनिया में, पद्मावती के अब तक हो गए 8.. अभी पिक्चर बाकी
पद्मावती अभी रिलीज नहीं हुई है और उसके पहले फिल्म पर इतना कुछ हो गया
पद्मावती अभी रिलीज नहीं हुई है और उसके पहले फिल्म पर इतना कुछ हो गया(फोटोः Youtube)

7 अजूबे इस दुनिया में, पद्मावती के अब तक हो गए 8.. अभी पिक्चर बाकी

बॉलीवुड की बड़ी बड़ी ब्लॉकबस्टर फिल्में सुर्खियां बटोरने के मामले में पद्मावती फिल्म से पिछड़ गई हैं. जबकि संजय लीला भंसाली की पद्मावती अभी रिलीज तक नहीं हुई है. ये भी नहीं मालूम कि कब रिलीज होगी? पर्दे पर पद्मावती की कहानी जो हो पर इसे लेकर पर्दे के बाहर जो कुछ हो रहा है वो अच्छी से अच्छी बॉलीवुड मसाला फिल्म को पीछे छोड़ देगा.

माने इसमें क्या नहीं है एक्शन, इमोशंस, ड्रामा, कोर्ट-कचहरी, छोटे से बड़े नेताओं के लंबे लंबे डॉयलॉग. न्यूज चैनल, अखबार और वेबसाइट, सोशल मीडिया हर जगह पद्मावती के ही चर्चे हैं. फिर घूमर का तड़का भी इसमें लग गया है.

देशभर में चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच इस मामले में काफी कुछ ऐसा अजूबा हुआ, जो हाल के दिनों में किसी फिल्म की रिलीज के समय शायद ही हुआ. दुनिया के सात अजूबों को बारे में तो सभी जानते हैं, इससे एक कदम आगे बढ़ते हुए पद्मावती विवाद के आठ अजूबों से रूबरू करा रहे हैं हम-

संसद की दहलीज पर पहुंची

विवाद ही सही बहुत कम फिल्में संसद तक पहुंची है. पद्मावती के लिए फिल्म के डायरेक्टर संजय लीला भंसाली और सेंसर बोर्ड के चेयरमैन प्रसून जोशी को संसद की इन्फॉर्मेशन और टेक्नोलॉजी कमेटी के सामने पेश हुए. 30 सदस्यों की कमेटी ने भंसाली से पूछा कि क्या उन्होंने सेंसर बोर्ड को प्रभावित करने के लिए मीडिया से जुड़े चुनिंदा लोगों को फिल्म दिखाई. बीजेपी के दो सांसदों ने फिल्म में पाबंदी लगाने की मांग भी कर डाली.

रिलीज से पहले ही 6 राज्यों में बैन

इस फिल्म को लेकर विरोध-प्रदर्शन इतना बढ़ गया है कि एक बाद एक छह राज्यों में इस फिल्म को बैन कर दिया गया. रिलीज होने से पहले ही राजस्थान, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, पंजाब, गुजरात और बिहार में फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने का ऐलान कर दिया गया. विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है.

रिलीज होने से पहले ही यूपी, एमपी, राजस्थान समेत छह राज्यों में फिल्म पर बैन
रिलीज होने से पहले ही यूपी, एमपी, राजस्थान समेत छह राज्यों में फिल्म पर बैन
(फोटोः Altered By Quint)

2D से पहले दिखाई जाएगी 3D?

अब तक बॉक्स ऑफिस पर फिल्म 2डी में रिलीज भी नहीं हुई है. लेकिन इसके 3डी लॉन्चिंग की पूरी तैयारी हो गई है. फिल्म की शूटिंग टू डी एडिशन में हुई थी, लेकिन फिल्म निर्माताओं ने इसे थ्री डी में बदलने का फैसला किया, क्योंकि थ्री डी ट्रेलर को अच्छा रिस्पॉन्स मिला है. हालांकि अब तक सेंसर बोर्ड की तरफ से 2डी एडिशन को हरी झंडी नहीं मिली पर निर्माताओं ने इसके थ्री डी एडिशन के लिए नई अर्जी दे दी है.

सेंसर बोर्ड ने लौटाई

इस फिल्म को अब तक सेंसर बोर्ड से सर्टिफिकेट नहीं मिला है. फिल्म निर्माताओं ने बोर्ड को कुल एप्लिकेशन दी हैं. पहली अर्जी वापस कर दी गई थी, क्योंकि इसमें डिस्‍क्लेमर नहीं था. दूसरी अर्जी पर बोर्ड अभी भी विचार कर रहा है कि फिल्म को 3 डी में रिलीज करने के लिए भी अर्जी आ गई है. सेंसर बोर्ड अभी तक किसी पर फैसला नहीं कर पाया है.

देश में पता नहीं विदेशी सेंसर बोर्ड में पास

भारत का सेंसर बोर्ड अभी फिल्म को पास नहीं कर पाया है. लेकिन ब्रिटेन के सेंसर बोर्ड ने पद्मावती को पास कर दिया. ब्रिटिश बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन ने बिना कोई कट लगाये पद्मावती को सर्टिफिकेट दे दिया. यानी निर्माता चाहें तो 1 दिसंबर को वहां फिल्म रिलीज हो सकती है.

ब्रिटेन के सेंसर बोर्ड से पद्मावती को मंजूरी
ब्रिटेन के सेंसर बोर्ड से पद्मावती को मंजूरी
( फोटो : बीबीएफसी )

नेताओं के अजब-गजब बयान

फिल्म को लेकर विरोध का स्तर इतना नीचे गिर गया कि नेताओं ने अजब-गजब बयान देना शुरू कर दिया. कोई फिल्म में पद्मावती का किरदार निभा रही दीपिका पादुकोण की नाक काटने की धमकी दे रहा है तो किसी ने संजय लीला भंसाली के सिर पर 10 करोड़ रुपये इनाम रख दिया है. एक ने 'शूर्पणखा' बनाने की धमकी दी. तो एक मुख्यमंत्री ने पद्मावती को 'राष्ट्रमाता' का दर्जा दे दिया ये भी देखें- ‘पद्मावती’ के गाने ‘घूमर’ पर दीपिका और मुलायम की बहू की टक्कर

फिल्म के सपोर्ट में लाइट, कैमरा, एक्शन बंद

फिल्म के समर्थन में इंडस्ट्री पूरी तरह सामने नहीं आई है. लेकिन कुछ लोग भंसाली के समर्थन में आए हैं. इंडियन फिल्म एंड टेलीविजन डायरेक्टर्स एसोसिएशन (IFTDA), फिल्म और टेलीविजन इंडस्ट्री की करीब 20 संस्‍थाओं ने फिल्म के समर्थन में 15 मिनट के लिए ब्लैक आउट किया. इन लोगों ने फिल्मों की शूटिंग नहीं की. इसके बाद बांग्ला फिल्म इंडस्ट्री ने भी फिल्म के सपोर्ट में ब्लैक आउट किया.

ये भी पढ़ें- पद्मावती इफेक्ट: हिरोइन दबंग, लेकिन ये सुपरस्टार तो दब्बू निकले

‘पद्मावती’ को लेकर देशभर में प्रदर्शनों का सिलसिला जारी
‘पद्मावती’ को लेकर देशभर में प्रदर्शनों का सिलसिला जारी
(फोटो: Altered by The Quint)

सुप्रीम कोर्ट की फटकार

फिल्म पर हो रहे विवाद को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट को भी इस मामले में हस्तपक्षेप करना पड़ा. कोर्ट ने फिल्म के बारे में जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगों की ओर से की जा रही बयानबाजी को गंभीरता से लेते हुए कहा कि यह फिल्म के बारे में पहले से धारणा बनाने जैसा है. सर्वोच्च अदालत ने सरकार में जिम्मेदार पदों पर बैठे लोगों को फटकार लगाई थी कि वो इस तरह की बयानबाजी से बचें.

फिल्म के प्रोड्यूसर, डायरेक्टर और एक्टर के साथ-साथ तमाम दर्शकों को इंतजार है सेंसर बोर्ड से हरी झंडी मिलने की. ताकि विवादों में घिरी इस फिल्म को बड़े पर्दे पर देखकर ये जान सके कि फिल्म में कितना हकीकत है और कितना फसना.