ADVERTISEMENT

CBSE टर्म 2 बोर्ड परीक्षा आज से शुरू, क्या हैं COVID प्रोटोकॉल?

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) के टर्म 2 बोर्ड की परीक्षाएं मंगलवार 26 अप्रैल से शुरू हो गई हैं.

Published
कुंजी
2 min read
CBSE टर्म 2 बोर्ड परीक्षा आज से शुरू, क्या हैं COVID प्रोटोकॉल?
i

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) के टर्म 2 बोर्ड की परीक्षाएं 26 अप्रैल से शुरू हो गई हैं. करीब 35 लाख छात्र एग्जाम में हिस्सा ले रहे हैं. अगर कोई छात्र टर्म 2 की परीक्षा देने में चूक जाता है तो क्या होगा? COVID प्रोटोकॉल क्या हैं? यहां वह सब है जो आपको जानना जरूरी है.

ADVERTISEMENT

अगर कोई व्यक्ति टर्म 2 की परीक्षा में चूक जाता है तो क्या होगा?

छात्र के टर्म एक के अंकों को अंतिम माना जाएगा. हालांकि, अगर कोई छात्र टर्म 1 से चूक गया है, लेकिन टर्म 2 की परीक्षा में हिस्सा लेता है, तो बाद के अंकों पर विचार किया जाएगा.

कोई छात्र COVID से पीड़ित है तो क्या होगा?

परीक्षा केंद्र को छात्र को एक अलग कमरे में परीक्षा देने की अनुमति देनी होगी.

क्या होगा अगर कोई छात्र दो या तीन विषयों की परीक्षा देने के बाद COVID से पीड़ित होता है?

छात्र हित में निर्णय लिया जाना चाहिए. हालांकि, उसे बाकी की परीक्षा देने के लिए एक अलग कमरा उपलब्ध कराया जाना होगा.

अगर माता-पिता COVID से पीड़ित हैं तो क्या होगा?

छात्रों को सामान्य सावधानी बरतने की सलाह दी जाती है - शारीरिक दूरी बनाए रखना और मास्क पहनना. उन्हें परीक्षा देने की अनुमति दी जाएगी.

एक छात्र ने अपना प्रैक्टिकल मिस कर दिया है. तब फिर क्या होगा?

स्कूल को एक उपयुक्त डेट पर प्रैक्टिकल परीक्षा आयोजित करनी होगी और रीजनल ऑफिस को मार्क्स भेजना होगा.

क्या होगा अगर कोई छात्र टर्म 1 और टर्म 2 दोनों से चूक जाता है?

इस पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है. अब तक, वे अगले साल परीक्षाओं में शामिल हो सकते हैं.

अगर वे टर्म 1 और 2 से चूक जाते हैं तो क्या वे कंपार्टमेंट परीक्षा में शामिल हो सकते हैं?

इस पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है. अब तक, वे अगले साल परीक्षाओं में शामिल हो सकते हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×