ट्रंप की बैचेनी बढ़ी,मिड टर्म इलेक्शन में अगर डेमोक्रेट जीत गए तो!
(फोटो: Shruti Mathur/The Quint)
  • 1. क्या हैं अमेरिकी मध्यावधि चुनाव?
  • 2. क्यों यह चुनाव इतना अहम?
  • 3. अगर विपक्ष जीता तो क्या होगा?
  • 4. ट्रंप के राष्ट्रपति पद पर चुनाव का क्या असर होगा?
ट्रंप की बैचेनी बढ़ी,मिड टर्म इलेक्शन में अगर डेमोक्रेट जीत गए तो!

अमेरिका में 6 नवंबर को मिड टर्म इलेक्शन यानी मध्यावधि चुनाव होंगे. इसे राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का लिटमस टेस्ट कहा जा रहा है. चार साल के राष्ट्रपति चुनाव के बीच में होने वाले इस चुनाव की काफी अहमियत होती है क्योंकि इसके नतीजों का उनके एजेंडे पर असर पड़ेगा. इसके साथ ही इस चुनाव को उनके कामकाज पर जनमत सर्वेक्षण भी माना जा रहा है. आइए जानते हैं क्या है यह इस चुनाव की अहमियत और क्या होगा इसका असर?

  • 1. क्या हैं अमेरिकी मध्यावधि चुनाव?

    अमेरिकी मिड टर्म इलेक्शन यानी मध्यावधि चुनाव 6 नवंबर को होगा. अमेरिकी संसद के दो सदन-सीनेट और हाउस ऑफ रिजप्रजेंटेटिव के चुनाव अमेरिकी राष्ट्रपति के कार्यकाल के चार साल  के दौरान दो साल बीतने पर होते हैं. हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव के सभी 435 सदस्य हर दो साल के लिए चुने जाते हैं. साथ ही सीनेट के एक तिहाई सदस्यों का भी चुनाव इस दौरान होता है.

    सीनेट में बहुमत के लिए 51 सीटें और हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव में बहुमत के लिेए 218 सीटें चाहिए. इसके अलावा अमेरिका के 36 राज्यों में गवर्नर के चुनाव हो रहे हैं. अमेरिका के 50 राज्यों में 33 में रिपब्लिकन पार्टी के गवर्नर हैं. सिर्फ 16 में डेमोक्रेटिक पार्टी के गवर्नर है. अलास्का में निर्दलीय गवर्नर हैं.

पीछे/पिछलाआगे/अगला

Follow our कुंजी section for more stories.

वीडियो