पुणे: कांग्रेस प्रवक्ता के भाई गिरफ्तार, रेप का आरोप

महिला ने पुलिस में दी अपनी शिकायत में कहा कि आरोपी ने उससे शादी करने का वादा करते हुए बार-बार दुष्कर्म किया

Published
क्राइम सीन का प्रतीकात्मक फोटो
i

लोनावला पुलिस ने मुंबई के एक पूर्व कांग्रेस कॉर्पोरेटर सुनीत वाघमारे को शादी करने का झांसा देकर एक महिला से कई बार कथित तौर पर दुष्कर्म करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

दक्षिण-मध्य मुंबई के भोईवाड़ा पुलिस स्टेशन में दर्ज अपनी लिखित शिकायत में 28 वर्षीय पीड़िता ने दावा किया है कि वाघमारे उसे तलाक के मामले अपने वकील के साथ पर चर्चा करने के लिए लोनावला हिल स्टेशन (पुणे) जाने का लालच दिया।

पीड़िता के मुताबिक, वह पहली बार था, जब वाघमारे ने नवंबर 2019 में महिला के साथ जबरदस्ती की और फिर इसके बाद उसने कथित तौर पर कई बार उसका दुष्कर्म किया।

महिला ने पुलिस में दी अपनी शिकायत में कहा कि आरोपी ने उससे शादी करने का वादा करते हुए बार-बार दुष्कर्म किया।

सुनीत रियल्टी व्यवसाय से जुड़ा हुआ है और वह महाराष्ट्र कांग्रेस के एक आधिकारिक प्रवक्ता राजू वाघमारे का भाई है।

पीड़िता ने मंगलवार दोपहर यहां मीडियाकर्मियों से कहा, मैं दबाव में हूं और अब मेरे जीवन को भी खतरा है। अगर मुझे कुछ हुआ तो सुनीत वाघमारे और उसका भाई राजू वाघमारे जिम्मेदार होंगे।

महिला ने कहा कि वह पहली बार सुनीत वाघमारे से तब मिली थी, जब उसने उसे नौकरी की पेशकश की थी और फिर उसके बाद फोन पर उसके साथ बातचीत शुरू कर दी थी।

पीड़िता के अनुसार, बाद में उसने कथित तौर पर उसे प्रपोज किया, लेकिन उसने मना कर दिया, क्योंकि वह पहले से ही शादीशुदा था और उसके लगभग महिला जितनी उम्र के बच्चे थे। महिला ने यह भी आरोप लगाया किया कि सुनीत ने यह दावा किया था कि वह अपनी पत्नी को तलाक देने की योजना बना रहा है।

सुनीत वाघमारे महिला को कथित तौर पर लोनावाला में एक रिसॉर्ट में यह झूठ बोलकर ले गया था कि वह तलाक की प्रक्रिया को अंतिम रूप देने के लिए अपने वकील से मिलेगा। महिला ने आरोप लगाया कि सुनीत ने यहां उसका दुष्कर्म किया।

आईएएनएस द्वारा बार-बार प्रयास करने के बावजूद राजू वाघमारे ने फोन कॉल रिसीव नहीं की, लेकिन उनके सहयोगी और प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा कि सुनीत (आरोपी) को 2017 के बृहन्मुंबई नगर निगम चुनावों में पार्टी विरोधी गतिविधियों के लिए हटा दिया गया था और पार्टी का उसके साथ कोई संबंध नहीं था।

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!