ईपीएस-95 पेंशनरों की रैली 27 फरवरी को
ईपीएस-95 पेंशनरों की रैली 27 फरवरी को
ईपीएस-95 पेंशनरों की रैली 27 फरवरी को

ईपीएस-95 पेंशनरों की रैली 27 फरवरी को

नई दिल्ली, 11 फरवरी (आईएएनएस)| अखिल भारतीय ईपीएस-95 पेंशनर्स संघर्ष समिति ने सोमवार को कहा कि संगठन अपनी मांगों सहित अन्य शिकायतों को लेकर 27 फरवरी को जंतर-मंतर से प्रधानमंत्री कार्यालय तक मार्च निकालेगा और 15 मार्च को देश के विभिन्न भागों में रेल रोको आंदोलन करेगा। समिति ने आगामी चुनाव के मद्देनजर एक नारा 'जो पेंशनर्स का काम करेगा, वो ही देश पर राज करेगा' भी दिया है।

संघर्ष समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक राउत ने बताया, "हमारे लाखों खत, आंदोलन, अनेक मंत्री और सांसदों के साथ बातचीत के बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज तक ईपीएस पेंशन के बारे में उचित निर्णय नहीं लिया।"

उन्होंने कहा, "15 मार्च को देश के विभिन्न भागों में रेल रोको आंदोलन होगा। रेल रोको आंदोलन उत्तर भारत में ग्वालियर, पूर्वी भारत में कोलकाता, पश्चिमी भारत में भुसावल और दक्षिणी भारत में बेंगलुरू में किया जाएगा।"

समिति ने ईपीएस-95 योजना के पेंशनधारकों की न्यूनतम मासिक पेंशन को बढ़ाकर 7,500 रुपये करने और इसे महंगाई भत्ते से जोड़ने व सर्वोच्च न्यायालय के आदेशानुसार वास्तविक वेतन पर उच्च पेंशन देने की मुख्य मांगों सहित अन्य शिकायतों को लेकर 27 फरवरी को नई दिल्ली के जंतरमंतर से प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) तक मार्च और रैली का आयोजन करने का भी फैसला किया है।

राउत ने कहा, "यह 63 लाख पेंशन धारक व उनके परिवार से जुड़ा हुआ गंभीर विषय है।"

उन्होंने कहा कि 15 जनवरी 2019 से पेंशनर्स की मध्यप्रदेश के भिंड जिले में अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल अभी भी जारी है।

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)

(My रिपोर्ट डिबेट में हिस्सा लिजिए और जीतिए 10,000 रुपये. इस बार का हमारा सवाल है -भारत और पाकिस्तान के रिश्ते कैसे सुधरेंगे: जादू की झप्पी या सर्जिकल स्ट्राइक? अपना लेख सबमिट करने के लिए यहां क्लिक करें)


Follow our अभी - अभी section for more stories.

    वीडियो