केपीएल सट्टेबाजी : स्पॉट फिक्सिंग मामले में 16 खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल

केपीएल सट्टेबाजी : स्पॉट फिक्सिंग मामले में 16 खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल

Published
केपीएल सट्टेबाजी : स्पॉट फिक्सिंग मामले में 16 खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल

बेंगलुरू, 8 फरवरी (आईएएनएस)| बेंगलुरू पुलिस ने कर्नाटक प्रीमियर लीग (केपीएल) स्पॉट फिक्सिंग मामले में 16 लोगों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया है। पुलिस अधिकारी ने शनिवार को कहा, "शुक्रवार को 16 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दायर की गई है, जिनमें से पांच खिलाड़ी हैं, पांच सट्टेबाज हैं, दो केपीएल टीम के मालिक हैं और एक कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ (केएससीए) का सदस्य है।"

जिन 16 लोगों के खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल किया गया है, उनमें से 14 लोग पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं और इस समय जमानत पर बाहर घूम रहे हैं, जबकि दो सट्टेबाज अमित मावी और मनोज कुमार फरार हैं।

तीन आरोप-पत्र के मुताबिक, पुलिस ने चार स्पॉट फिक्सिंग के मामले निकाले हैं, जिनमें से केपीएल-2019 में बलारी टस्कर्स और बल्गावी पैंथर्स के बीच खेला गया फाइनल शामिल है। एक में टस्कर्स के कप्तान और टीम के साथी अब्रार काजी ने 20 लाख रुपये के लिए धीमी बल्लेबाजी की थी, यह मामला भी शामिल है।

इसी तरह बेंगलुरू ब्लास्टर्स के गेंदबाजी कोच विणुप्रसाद और बल्लेबाज एम. विश्वनाथन ने टस्कर्स के खिलाफ मैच फिक्स करने के लिए 10 लाख रुपये लिए थे। बेंगलुरू ब्लास्टर्स के साथ ही ताल्लुक रखने वाले निशांत सिंह शेखावत पर भी सट्टेबाजी का मामला दर्ज है।

जिन लोगों के खिलाफ आरोप-पत्र दाखिल किए गए हैं उन सभी पर भारतीय दंड सहिता (आईपीसी) की धारा 420 के तहत धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया गया है।

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!