मैं स्टीरियोटाइप्ड महसूस नहीं करता : राघव जुयाल
मैं स्टीरियोटाइप्ड महसूस नहीं करता : राघव जुयाल
मैं स्टीरियोटाइप्ड महसूस नहीं करता : राघव जुयाल

मैं स्टीरियोटाइप्ड महसूस नहीं करता : राघव जुयाल

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है.)

नई दिल्ली, 14 अगस्त (आईएएनएस)| डांसर-ऐक्टर-होस्ट राघव जुयाल अपने स्लो-मोशन डांस मूव्स के लिए मशहूर हैं। उनके पास एक स्वाभाविक कॉमिक स्किल भी है जो उनके परफॉर्मेस और फिल्मों में दिखता है हालांकि राघव स्टीरियोटाइप्ड महसूस नहीं करते हैं। राघव ने 'डांस प्लस', 'राइजिंग स्टार', 'एबीसीडी 2' और 'नवाबजादे' जैसे कार्यक्रमों और फिल्मों में अपना टैलेंट दिखा चुके हैं। उनकी आने वाली परियोजना 'बहुत हुआ सम्मान' भी एक कॉमेडी फिल्म है।

एक ही श्रेणी में बने रहने को लेकर जब उनसे सवाल किया गया तो राघव ने कहा, "मैं स्टीरियोटाइप्ड महसूस नहीं करता। टेलीविजन पर फिजिकल कॉमेडी ज्यादा रहता है। इस फिल्म में परिस्थितियां हैं जो कि मजेदार हैं।"

इसके अलावा भी डांस शो में उन्होंने कहा कि फिल्मों में अपनी किरदारों में किसी और की भूमिका को नहीं निभाते हैं।

उन्होंने कहा, "मैं राघव के ही रूप में खुद को एन्जॉय करता हूं। मुझे कॉमिक टाइमिंग और ह्यूमर की समझ है जो मंच पर एक मेजबान के रूप में काम आता है, लेकिन अभिनय भिन्न है।"

राघव ने आगे कहा, "एक्टिंग में आप किसी और के किरदार को निभाते हैं। आपको काल्पनिक परिस्थितियों में किरदार के मुताबिक जीना पड़ता है।"

हालांकि राघव एक अभिनेता के रूप में खुद को और तलाशना चाहते हैं।

आशीष शुक्ला द्वारा निर्देशित फिल्म 'बहुत हुआ सम्मान' के बारे में राघव ने कहा, "यह मेरी पसंदीदा परियोजनाओं में से एक है। संजय सर (संजय मिश्रा) और राम कपूर सर के साथ काम करना किसी सपने के जैसा है।"

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)


Follow our अभी - अभी section for more stories.

    Loading...