नंबी नारायणन के बारे में नहीं जानना अपराध है : आर. माधवन

नंबी नारायणन के बारे में नहीं जानना अपराध है : आर. माधवन

Published01 Nov 2018, 10:21 AM IST
अभी - अभी
2 min read

मुंबई, 1 नवंबर (आईएएनएस)| फिल्म 'रॉकेट्री- द नंबी इफेक्ट' की रिलीज के लिए तैयार अभिनेता-निर्देशक आर.माधवन का मानना है कि महान वैज्ञानिक नंबी नारायणन के बारे नहीं जानना अपराध है। माधवन ने मुंबई में बुधवार को फिल्म के टीजर रिलीज के दौरान संवाददाताओं से यह बात कही। इस दौरान उनके साथ फिल्म के सहनिर्देशक अनंत महादेवन और इसरो के पूर्व वैज्ञानिक एस.नंबी महादेवन भी मौजूद थे।

'रॉकेट्री- द नंबी इफेक्ट' वैज्ञानिक नंबी नारायणन के जीवन पर आधारित है, जो इसरो के वरिष्ठ अधिकारी हैं। साल 1994 में उन पर जासूसी के झूठे आरोप लगे थे और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था लेकिन बाद में उन पर लगे आरोप गलत साबित हुए।

फिल्म के बारे में माधवन ने कहा, "यह फिल्म मेरे लिए जुनून बन गई है। तीन वर्ष पहले अनंत महादेवन ने नंबी नारायणन की कहानी सुनाई। मुझे लगा कि यह उस व्यक्ति की कहानी है, जिसके साथ अन्याय हुआ, उसे झूठे आरोपों में जेल भेजा गया था। इसके बाद मैंने इस पर लिखना शुरू कर दिया और मुझे इस स्क्रिप्ट को लिखने में सात महीने लगे। फिल्म को लेकर जब मैं उनसे मिला तो उन्होंने कभी भी अपनी उपलब्धियों के बारे में नहीं की लेकिन जब मैंने उनसे इस बारे में जानना चाहा तो मुझे अहसास हुआ कि मैं इस स्क्रिप्ट के साथ अन्याय कर रहा हूं क्योंकि मैंने फिल्म की स्क्रिप्ट में उनके केस के बारे में ही लिखा था। इसलिए जिस स्क्रिप्ट पर मैंने सात महीने लगाए थे, मैंने उसे फेंक दिया और मुझे अनंत महादेवन और अन्य राइटर्स के साथ मिलकर इस फिल्म की स्क्रिप्ट लिखने में डेढ़ साल लगे। मुझे यकीन है कि देश के 95 फीसदी लोगों को नंबी नारायणन के बारे में पता नहीं होगा, जो मुझे लगता है कि अपराध है और जो पांच फीसदी लोग उनके बारे में जानते हैं, वे उनकी पूरी कहानी नहीं जानते।"

'रॉकेट्री - द नंबी इफेक्ट' अगले साल हिदी, अंग्रेजी और तमिल में रिलीज होगी।

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)


क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!