ओल्गा तोकार्चुक को 2018, पीटर हैंडके को 2019 का साहित्य का नोबेल

यौन उत्पीड़न विवाद के चलते इन पुरस्कारों की घोषणा में देरी हुई थी

Updated
अभी - अभी
1 min read
यौन उत्पीड़न विवाद के चलते इन पुरस्कारों की घोषणा में देरी हुई थी
i

पोलैंड की लेखिका ओल्गा तोकार्चुक ने वर्ष 2018 के लिये साहित्य का नोबेल पुरस्कार जीता है। यौन उत्पीड़न विवाद के चलते इन पुरस्कारों की घोषणा में देरी हुई थी। साथ ही ऑस्ट्रियाई उपन्यासकार और पटकथा लेखक पीटर हैंडके को 2019 के लिये यह पुरस्कार दिया गया। स्वीडिश अकादमी ने यह जानकारी दी।

तोकार्चुक को यह सम्मान, “उस विमर्श की परिकल्पना के लिये दिया गया है जो जीवन के एक स्वरूप की हदें लांघने की विश्वव्यापी चाहत का प्रतिनिधित्व करती है।”

हैंडके ने “उस प्रभावशाली काम के लिये यह पुरस्कार जीता जो भाषाई सरलता के साथ इंसानी अनुभवों की विशिष्टता की परिधि को टटोलती है।”

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)


Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!