फिल्म उद्योग ने मीका सिंह पर लगाया प्रतिबंध
फिल्म उद्योग ने मीका सिंह पर लगाया प्रतिबंध
फिल्म उद्योग ने मीका सिंह पर लगाया प्रतिबंध

फिल्म उद्योग ने मीका सिंह पर लगाया प्रतिबंध

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है.)

नई दिल्ली, 14 अगस्त (आईएएनएस)| ऑल इंडियन सिने वर्कर्स एसोसिएशन (एआईसीडब्ल्यूए) ने गायक मीका सिंह को पाकिस्तान के कराची में एक कार्यक्रम में परफॉर्म करने पर भारतीय फिल्म उद्योग से प्रतिबंधित कर दिया है। पाकिस्तान में यह कार्यक्रम पूर्व पाकिस्तानी राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ के करीबी रिश्तेदार द्वारा आयोजित किया गया था।

इसके बावजूद कि भारत ने धारा 370 को हटाने के बाद पाकिस्तान के साथ सभी कलात्मक और सामाजिक संबंधों को तोड़ दिया है, एक पाकिस्तानी पत्रकार द्वारा ट्वीट किए गए 30 सेकेंड के वीडियो क्लिप में मीका कार्यक्रम में परफॉर्म करते नजर आ रहे हैं।

एआईसीडब्ल्यूए के अध्यक्ष सुरेश श्यामलाल गुप्ता के एक पत्र में कहा गया है, "एआईसीडब्ल्यूए ने 8 अगस्त, 2019 को कराची में एक हाई प्रोफाइल कार्यक्रम में परफॉर्म करने के लिए भारतीय फिल्म उद्योग से गायक मीका सिंह का बहिष्कार किया है।"

इसमें आगे कहा गया, "फिल्म प्रोडक्शन हाउस, म्यूजिक कंपनियों और ऑनलाइन म्यूजिक कंटेंट प्रोवाइडर्स के साथ उनके सभी जुड़ाव का बहिष्कार करते हुए एआईसीडब्ल्यू तुरंत सख्त रुख अपनाता है।"

बयान में आगे कहा गया कि एआईसीडब्ल्यूए के कार्यकर्ता यह सुनिश्चित करेंगे कि भारत में कोई भी मीका सिंह के साथ काम नहीं करे और यदि कोई करता है, तो उन्हें अदालत में कानूनी परिणाम का सामना करना पड़ेगा।

फिल्म एसोसिएशन ने कहा, "जब देशों के बीच तनाव चरम पर होता है, तो मीका सिंह देश के गौरव को ताक पर रखकर पैसे को ज्यादा महत्व देते हैं।"

एसोसिएशन ने इस मामले में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के हस्तक्षेप की भी मांग की।

मीका ने 14 सदस्यीय मंडली के साथ एक लड़की की प्री-वेडिंग कार्यक्रम में प्रस्तुति दी, जिसके पिता अदनान असद कथित रूप से पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ के चचेरे भाई हैं। तीन शहरों -कराची, लाहौर और इस्लामाबाद में प्रस्तुति देने के लिए मीका और उनके दल को 30 दिनों के लिए वीजा दिया गया है।

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)


Follow our अभी - अभी section for more stories.

    Loading...