ADVERTISEMENT

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह बोले- हम किसानों और रामभक्तों पर गोलियां नहीं चलवा सकते

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह बोले, हम किसानों और रामभक्तों पर गोलियां नहीं चलवा सकते

Published
रक्षामंत्री राजनाथ सिंह बोले- हम किसानों और रामभक्तों पर गोलियां नहीं चलवा सकते

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि हम किसानों और रामभक्तों पर गोलियां नहीं चलवा सकते। यह सपा को मंजूर होगा। हमे नहीं।

राजनाथ सिंह गुरुवार को सीतापुर के ग्रास फार्म पर अवध क्षेत्र के 15 जिलों के बूथ अध्यक्षों के सम्मेलन में बोल रहे थे। इस दौरान उन्होंने कृषि कानून की वापसी को लेकर कहा कि किसानों को बहुत समझाने की कोशिश की गई, लेकिन जब नहीं समझा पाए तो कानून वापस लेने का फैसला किया गया। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम किसानों को ऐसे हालत पर नहीं छोड़ सकते। ऐसा कोई काम नहीं करेंगे, जिससे किसान परेशान हों। सपा पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने रामभक्तों पर गोलियां चलवा दीं। हम किसानों और रामभक्तों पर गोलियां नहीं चलवा सकते हैं।

रक्षामंत्री ने कहा कि चुनाव आ रहा है तो सपा के लोग जिन्ना को ले आए। जिसने देश का विभाजन किया, उसके नाम का सहारा ले रहे हैं। कार्यकर्ताओं ने नारा लगाया देश में रहना होगा, वंदेमातरम कहना होगा। राजनाथ ने कहा हमारी कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं है। काम करने की क्षमता, कुशलता व ताकत जब तक सत्ता में बैठे लोगों में नहीं होगी, तब तक देश सेवा नहीं हो सकती।

कहा कि कारगिल युद्ध के हीरो कैप्टन मनोज पांडेय की यह जन्म स्थली है। सीतापुर की मां के कोख में जन्मे मनोज पांडेय ने कारगिल युद्ध में अदम्य साहस का परिचय दिया था। देश की अखंडता के लिए अपनी जान को न्यौछावर कर दिया था। ऐसे वीरों की धरती है सीतापुर। देश के लिए जीवन अर्पण करने वालों को याद किया जाना चाहिए। सात दिन पहले भारत और चीन की सीमा पर रेजांगला में था। मुझे बताया गया कि वहां आज तक कोई रक्षा मंत्री नहीं गया। जिन लोगों ने ऐसी धरती पर रहकर देश की सीमाओं की रक्षा की वहां मैं गया।

रक्षामंत्री ने कहा कि चार माह पहले जब मैं लद्दाख गया, वहां भारत और चीन के बीच युद्ध हुआ था। वहां पता चला कि यहां भारत के 124 सैनिकों ने चीन के हजारों सैनिकों का सामना किया और चीन को भारी नुकसान पहुंचाया था। भारत की एकता, अखंडता की रक्षा के लिए जैसे सैनिकों की जरूरत होती है। वैसे ही देश में सुशासन देने के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं की भूमिका है। बूथ कार्यकर्ताओं में उन्होंने देश भक्ति का उत्साह बढ़ाया। उन्होंने कहा रायबरेली के सी-1 के बूथ अध्यक्ष रामसेवक से बात की। उन्नाव के आदर्श नगर आंशिक के अमर वर्मा, सीतापुर के विवेक विश्वकर्मा से बात की। पूर्वी लखेड़ा लखीमपुर के रोहित, हरदोई के अभिषेक, बलरामपुर से चंद्र कुमार मौर्य, बहराइच से घनश्याम, रनियापुर के विशाल तिवारी आदि से बात की।

बूथ अध्यक्षों से कहा, वह कल सीतापुर आ रहे हैं। इन लोगों ने बताया कि वह कार्यक्रम में सीतापुर पहुंच रहे हैं। कार्यकर्ता उत्साह से भरे थे, इससे सुखद अहसास हुआ। जब मैं राष्ट्रीय अध्यक्ष था, तब भी बूथ अध्यक्ष से बात करता था। कमेटी की बैठकों में भी जाता था। बूथ जीता समझो चुनाव जीत गया। आपके दमखम पर यह करिश्मा हुआ है कि दुनिया में भाजपा सबसे बड़ी राजनैतिक पार्टी है। पार्टी की एक विचारधारा है, उसूल हैं। भाजपा केवल सत्ता के लिए सरकार नहीं बनाना चाहती, देश बनाने के लिए सरकार बनाना चाहती है। भाजपा ने अपने संकल्प को पूरा किया, जो कहा वह किया है। हमारे संकल्प पत्र देख सकते हैं। आज भारत दुनिया का ताकतवर देश बन चुका है।

18 नवंबर को भारत-चीन की सीमा पर स्थित रेजांग ला जाने का जिक्र भी रक्षामंत्री ने किया। कहा कि -20 डिग्री सेल्सियस में वहां हमारे जवान रहते हैं। लद्दाख के रेजांग ला में बनाए गए वॉर मेमोरियल को 18 नवंबर को ही रक्षामंत्री ने देश को सौंपा है।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि यूपी में बदलाव दिख रहा है। योगी ने कमाल किया है। बड़े-बड़े निवेश हो रहे हैं। बाहर से आकर लोग यहां पर निवेश कर रहे हैं। रूस की मदद से यूपी में एलास्ट रायफल यूपी में ही बनेगी। ब्रम्होस मिसाइल भी अब यूपी की धरती पर बनेगी। डिफेंस कॉरीडोर पर काम चल रहा है।

--आईएएनएस

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT