'तेनाली रामा' का रामा क्या राज्य छोड़ देगा?

'तेनाली रामा' का रामा क्या राज्य छोड़ देगा?

मुंबई, 7 दिसंबर (आईएएनएस)| सोनी सब का धारावाहिक 'तेनाली रामा' अपनी आकर्षक कहानी से लगातार दर्शकों को बांधे हुए है। राज्य में अपना कद ऊंचा करने की कोशिश कर रहा रामा (कृष्णा भारद्वाज) 'अष्टदिग्गज' में जगह बना ली और राजा का सलाहकार भी बन गया। मगर आगे आने वाले ट्रैक में वह खुद अपनी क्षमताओं पर सवाल खड़े कर रहा है। सवाल यह भी है कि क्या वह एक दिन राज्य को छोड़कर चला जाएगा? आगे की कहानी में तथाचार्य (पंकज बेरी) तपस्या करने के लिए दूर गए हुए हैं, जहां उन्हें एक बेहद बुद्धिमान बालक मिलता है। उसका नाम महेश दास है। उस लड़के को बीरबल (भावेश बालचंदानी) के नाम से भी जाना जाता है। वह तथाचार्य को अपनी बुद्धिमानी और हाजिरजवाबी हुनर से प्रभावित करने में सफल हो जाता है। तथाचार्य उसे रामा के साथ प्रतियोगिता करने के लिए विजयनगर लेकर आता है।

एक खाली चिट्ठी का मामला लेकर दोनों दरबार में पहुंचते हैं। रामा और बीरबल दोनों ही उसे सुलझाने की कोशिश करते हैं। हालांकि उस चिट्ठी की गुत्थी सुलझाने में बीरबल, रामा से जीत जाता है। बीरबल रामा से ज्यादा योग्य साबित हो गया। इसके बाद तथाचार्य रामा के ओहदे पर सवाल उठाते हैं। आखिरकार रामा को यह महससू होता है कि बीरबल उससे ज्यादा बुद्धिमान है और वह राज्य छोड़कर जाने व अपना पद छोड़ने का फैसला करता है।

रामा की भूमिका निभा रहे कृष्णा भारद्वाज कहते हैं, "रामा के लिए अपने ओहदे में ऊपर बढ़ना बहुत ही महत्वपूर्ण था। इससे उसे दरबार में अपने महत्व का पता चला। हालांकि अष्टदिग्गज में अपनी जगह बनाने और बीरबल के आने के बाद रामा राज्य में अपने कद को बचाने में लगा है।

उन्होंने कहा, "इस सीक्वेंस की शूटिंग के दौरान उन ऐतिहासिक किरदारों को और भी जानने का मौका मिला, जो हमेशा ही ज्ञानवर्धक होता है।"

(ये खबर सिंडिकेट फीड से ऑटो-पब्लिश की गई है. हेडलाइन को छोड़कर क्विंट हिंदी ने इस खबर में कोई बदलाव नहीं किया है.)

(यहां क्लिक कीजिए और बन जाइए क्विंट की WhatsApp फैमिली का हिस्सा. हमारा वादा है कि हम आपके WhatsApp पर सिर्फ काम की खबरें ही भेजेंगे.)

Follow our अभी - अभी section for more stories.

    वीडियो