IIT-JEE में सुपर-30 का धमाल, सभी स्टूडेंट कामयाब

संस्थान गरीब परिवारों के 30 बच्चों का सेलेक्शन करता है और उन्हें फ्री कोचिंग, खाना और रहने की सुविधा देता है.

Published
भारत
2 min read
आनंद कुमार के साथ स्टूडेंट्स. (फोटो: IANS)

आईआईटी के एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कराने के लिए चर्चित संस्थान सुपर-30 के सभी 30 स्टूडेंट्स ने इस साल आईआईटी जाॅइंट एंट्रेंस एग्जाम (जेईई) में सफलता पाई है.

रविवार को जेईई रिजल्ट घोषित किए जाने के बाद सुपर- 30 के फाउंडर और मैथमेटिशियन आनंद कुमार ने कहा कि अब सुपर-30 का आकार और भी बड़ा किया जाएगा.

नतीजों के बाद आनंद कुमार ने रिजल्ट को लेकर खुशी जताई.

यह बच्चों की निरंतर मेहनत का नतीजा है कि उन्होंने आईआईटी के एंट्रेंस एग्जाम में सफलता हासिल की है. अब समय आ गया है, जब सुपर 30 के आकार को और बड़ा किया जाए.
आनंद कुमार

उन्होंने बताया कि इस साल सफल स्टूडेंट्स में अधिकांश बच्चे दैनिक मजदूर, सीमांत किसान और प्रवासी मजदूरों के बच्चे हैं. सभी 12वीं की परीक्षा पास कर चुके हैं.

आनंद ने कहा कि सुपर 30 में एडमिशन के लिए इस साल देश के अलग-अलग हिस्सों में टेस्ट एग्जाम आयोजित की जाएगी, जिसकी जानकारी वेबसाइट पर दी जाएगी.

पिछले 15 साल से हिट

सुपर-30 पिछले 15 सालों से बच्चों को आईआईटी एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी कराने में जुटा है. अब तक इस संस्थान से कुल 396 स्टूडेंट्स ने आईआईटी एंट्रेंस एग्जाम में सफलता पाई है.

संस्थान गरीब परिवारों के 30 बच्चों का सेलेक्शन करता है और उन्हें फ्री कोचिंग, खाना और रहने की सुविधा देता है ताकि वे अपना ध्यान सिर्फ आईआईटी-जेईई में सफल होने पर केंद्रित कर सकें.

इस काम में आनंद का पूरा परिवार उनका साथ देता है. उनकी मां घर में खुद सभी 30 बच्चों के लिए खाना बनाती हैं और उनके भाई प्रणव बच्चों को आईआईटी की तैयारी करवाते हैं. इस काम के लिए आनंद देश-विदेशों में पाॅपुलर चुके हैं.

आनंद कुमार का दावा है कि इस काम के लिए अब तक उन्होंने किसी प्रकार का अनुदान नहीं लिया है.

-इनपुट IANS से

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!