Me, The Change: तापसी पन्नू का सफर, संघर्ष से स्टारडम तक

Me, The Change: तापसी पन्नू का सफर, संघर्ष से स्टारडम तक

Me, The Change

‘मी, द चेंज’ पहली बार वोट करने जा रही ऐसी महिलाओं के लिए द क्विंट का कैंपेन है, जिन्होंने कोई भी, छोटी या बड़ी उपलब्धि हासिल की है. इस कैंपेन में द क्विंट नाॅमिनेशन के जरिए इन असाधारण महिलाओं की कहानियों को आपके सामने पेश कर रहा है. अगर आप भी ऐसी किसी बेबाक और बिंदास महिला को जानते हैं, तो हमें methechange@thequint.com पर ईमेल करके बताएं.

तापसी पन्नू पहली बार वोट डालने जा रहीं 10 शानदार महिलाओं को 17 जनवरी, 2019 को सम्मानित करेंगी. इसे द क्विंट और क्विंट हिंदी पर आप लाइव देख सकते हैं. इस कार्यक्रम का हिस्सा बनने के लिए नीचे दिए गए कोड को स्कैन करें या फिर इस फॉर्म को भरें.

इनवाइट के लिए इस कोड को स्कैन करें
इनवाइट के लिए इस कोड को स्कैन करें
(फोटो: द क्विंट)

"खुद पर यकीन करो"

कई बार सुन चुके हैं?

हां! लेकिन यही एक्टर तापसी पन्नू की कामयाबी का मंत्र है.

इंजीनियरिंग ग्रेजुएट तापसी ने 2010 में आई तेलुगू फिल्म जुम्मांदी नद्दाम से एक्टिंग में डेब्यू किया था. फिल्म राघवेंद्र राव ने डायरेक्ट की थी (श्रीदेवी को भी इन्होंने ही लॉन्च किया था). साउथ में कई ब्लॉकबस्टर फिल्में करने के बाद उनकी फिल्में फ्लॉप होने लगीं और उन्हें 'बैड लक' करार दे दिया गया.

डायरेक्टर्स ने उनके साथ काम करने से मना कर दिया क्योंकि उन्हें लगता था कि फिल्म सही बिजनेस नहीं करेगी. लेकिन इसने तापसी के आत्मविश्वास को कम नहीं किया. उन्होंने हार नहीं मानी और ये साबित कर के दिखाया कि वो सिर्फ एक टैलेंटेड एक्टर नहीं हैं, बल्कि फिल्में भी हिट करवा सकती हैं.

ये भी पढ़ें : Me, The Change: सुषमा मिद्दे, कोलकाता की इकलौती महिला उबर ड्राइवर

मैंने मॉडलिंग सिर्फ पॉकेट मनी के लिए शुरू की थी. इंजीनियरिंग पूरी करने के बाद मैं कैट एग्जाम में फेल हो गई. मुझे कुछ तमिल और तेलुगू फिल्मों के ऑफर आ रहे थे. मैंने सिर्फ मजे और एक्सपेरिमेंट के लिए उनके लिए हां कर दी. साउथ की फिल्मों में सब ठीक चलता रहा. फिर मुझे बॉलीवुड में मौका मिला और मैं मुंबई आ गई. तो मैंने सभी मौकों का भरपूर फायदा उठाया और मुझे खुशी है कि मैंने ऐसा किया. क्योंकि अगर मैं ऐसा नहीं करती तो मैं आज वहां नहीं होती जहां मैं हूं. मैं इस इंडस्ट्री में किसी को नहीं जानती थी, मेरा कोई गॉडफादर नहीं था, तो मुझे मालूम था कि ये आसान नहीं होगा. लेकिन यही तो मजा है, जब आप जिंदगी की मुश्किलों का सामना करते हैं और सफल होते हैं.
तापसी पन्नू, एक्टर

ये भी पढ़ें : Me, The Change:‘गुलाम’ रह चुकी लड़की अब दिला रही दूसरों को आजादी 

उनका संघर्ष और उनकी सफलता आपको कुछ अलग करने के लिए प्रेरित करेगी. वैसे ही उन 10 लड़कियों की तरह, जो द क्विंट के Me, The Change कैंपेन का हिस्सा हैं. उनकी कहानी यहां पढ़ें.

कैमरा: संजय देब

एडिटर: आशिष मैक्यून, वीरू कृष्णन मोहन

कैमरा असिस्टेंट: गौतम शर्मा

प्रोड्यूसर: दिव्या तलवार

ये भी पढ़ें : Me, The Change: बाल यौन शोषण के खिलाफ मरियम का ये कदम बचा रहा बचपन

(पहली बार वोट डालने जा रहीं महिलाएं क्या चाहती हैं? क्विंट का Me The Change कैंपेन बता रहा है आपको! Drop The Ink के जरिए उन मुद्दों पर क्लिक करें जो आपके लिए रखते हैं मायने.)

Follow our Me, The Change section for more stories.

Me, The Change

    वीडियो