अगले VC से क्या हैं JNU के छात्रों की उम्मीदें? 

जेएनयू के वर्तमान वाइस चांसलर जगदीश कुमार का कार्यकाल जनवरी 2021 में पूरा होने वाला है.

Updated
शिक्षा
2 min read

जेएनयू के वर्तमान वाइस चांसलर जगदीश कुमार का कार्यकाल जनवरी 2021 में पूरा होने वाला है. शिक्षा मंत्रालय नए VC की तलाश में है. ऐसे में जेएनयू के छात्रों से जानते हैं कि उन्हें किस तरह का वीसी चाहिए?

JNU की ही एक छात्रा अपेक्षा का कहना है की “हमारा अगला VC ऐसा होना चाहिए, जो अपने ही छात्रों से डरे नहीं” क्योंकि वर्तमान VC जगदीश कुमार ने विरोध प्रदर्शनों में बहुत से छात्रों को जाने की अनुमति नहीं दी थी.

एक योग्य VC की गुणवत्ताओं के बारे मे विस्तार से बात करते हुए और 2016 में JNU के छात्र नजीब अहमद के गायब होने पर अपेक्षा का कहना है कि “ हमारे वीसी में इतने गुण तो होने ही चाहिए , कि अगर कभी कोई छात्र गुम हो जाता है तो वो VC कम से कम उसकी चिंतित मां से बात करके उसे सांत्वना दे सके”

VC का कर्तव्य है अपने छात्रों की रक्षा करना

नकाबपोश भीड़ द्वारा JNU में 5 जनवरी को हुए हमले पर छात्रा सुचेता का कहना है कि , एक VC को कैम्पस की सुरक्षा पर पूरा ध्यान देना चाहिए, किसी भी ऐसे अभद्र व्यक्ति को कैम्पस में जरा भी घुसने नहीं दिया जाना चाहिए, और अगर ऐस कभी होता है तो छात्रों को न्याय दिलाना भी VC की ही जिम्मेदारी होनी चाहिए.

“हमारा VC ऐसा होना चाहिए की जब उस नकाबपोश भीड़ ने कैम्पस के अंदर घुसकर छात्रों पर हमला किया, कैम्पस स्टाफ को उसी व्यक्त उस भीड़ को वहीं पकड़ रोक देना चाहिए था”

JNU की एक और छात्र परमिंदर का कहना है कि, कॅम्पस मे धार्मिक संगठनों को बुलाने से अच्छा होगा की अगर वे किसी अच्छे वैज्ञानिकों और लेखकों को आमंत्रण दे ताकि वो लोग छात्रों को प्रेरणा दे सकें, वही सुष्मिता का भी यही कहना है कि कोई भी VC किसी एक विचारधारा पर अमल करने वाला नहीं होना चाहिए , क्योंकि वो किसी एक समुदाय के नहीं बल्कि पूरी यूनिवर्सिटी और हर एक छात्र के लिए उत्तरदायी हैं.

नवंबर 2017 मे श्री श्री रविशंकर को नेहरू मेमोरियल लेक्चर देने के लिए आमंत्रित किया गया था, और दोबारा ऐसा 2018 मे भी किया गया था लेकिन इस बार “सद्गुरु” जग्गी वासुदेव को बुलाया गया था. मई 2020 मे भी यूनिवर्सिटी में ‘लीडरशिप लेसन्स फ्रॉम रामायण’ के विषय पर एक वेबिनार आयोजित किया था.

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!