पंजाब में 15 जुलाई तक यूनिवर्सिटी- कॉलेज की परीक्षाएं स्थगित 

कोरोना के चलते छात्रों और अभिभावकों ने परीक्षाएं आयोजित किए जाने को लेकर चिंता जाहिर की थी

Published29 Jun 2020, 06:30 AM IST
शिक्षा
1 min read

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने राज्य के सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों में अंतिम सेमेस्टर की परीक्षाएं 15 जुलाई तक स्थगित करने की घोषणा की है. कोरोना के चलते छात्रों और अभिभावकों ने परीक्षाएं आयोजित किए जाने को लेकर चिंता जाहिर की थी, जिसके बाद मुख्यमंत्री ने यह ऐलान किया. राज्य सरकार की ओर से जारी बयान के मुताबिक,

इस मामले पर अंतिम फैसला विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) की ओर से जारी होने वाले नए दिशा-निर्देशों पर निर्भर करेगा. ये निर्देश किसी भी समय जारी होने की उम्मीद है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 जुलाई तक परीक्षाएं स्थगित रहने से सभी पक्षकारों, खासकर विश्वविद्यालयों को यूजीसी की ओर से आने वाले नए दिशा-निर्देशों को अपनाने और उसके अनुकूल कार्य करने का समय मिल जाएगा.

यूजीसी लेगी अंतिम फैसला

पंजाब के विश्वविद्यालयों ने पहले 29 अप्रैल को यूजीसी द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के अनुसार जुलाई 2020 में एग्जिट कक्षाओं की परीक्षा आयोजित करने का निर्णय लिया था.

यूजीसी ने तब घोषणा की थी कि वह स्थिति की फिर से समीक्षा करेगी. हालांकि, शैक्षणिक गतिविधियां और परीक्षाएं कब और कैसे आयोजित की जाएगी. इसके बारे में अंतिम फैसला यूजीसी की ओर से लिया जाएगा.

डीयू की परीक्षा 10 दिनों के लिए स्थगित

कोरोना वायरस संकट को देखते हुए सीबीएसई ने 1 से 15 जुलाई के बीच होने वाली परीक्षा का रद्द कर दिया है. वहीं दिल्ली यूनिवर्सिटी ने होने वाली फाइनल ईयर की परीक्षा को 10 दिनों के लिए स्थगित कर दिया है.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर को और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!