भारत सरकार ने अब चीन के 47 ऐप्स को भी किया बैन

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार ने 275 दूसरे चीनी ऐप्स की भी लिस्ट बनाई है,

Updated27 Jul 2020, 07:26 AM IST
भारत
2 min read

भारत सरकार ने चीन के 47 और ऐप्स को बैन कर दिया है. बता दें कि इससे पहले भी सरकार ने चीन की 59 ऐप्स को बैन किया था. ऐसी भी खबर है कि पबजी और जिली जैसे ऐप पर भी आने वाले समय में पाबंदी लगाई जा सकती है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सरकार ने 275 दूसरे चीनी ऐप्स की भी लिस्ट बनाई है, जिसमें ये जांच की जा रही है कि ये ऐप्स कहीं नेशनल सिक्योरिटी के लिए खतरा तो नहीं हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक जिन कंपनियों का सर्वर चीन में हैं, उस पर रोक लगाई जा सकती हैं. 

बता दें कि भारत सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा का हवाला देते हुए टिकटॉक, वीचैट, यूसी ब्राउजर जैसे 59 चीनी ऐप पर बैन लगा दिया था. मंत्रालय का कहना था, "हमारे पास विश्वसनीय सूचना है कि ये ऐप ऐसे गतिविधि में लगे हुए थे, जिससे हमारी संप्रभुता और अखंडता और रक्षा को खतरा था, इसलिए ये कदम उठाए गए हैं.''

बता दें कि भारत और चीन के जवानों के बीच गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प में 20 भारतीय जवान शहीद हुए थे. जिसके बाद चीन को लेकर पूरे देश में गुस्सा है. लोग चीनी सामान और ऐप्स के इस्तेमाल का बहिष्कार कर रहे हैं. इसके लिए पिछले कई दिनों से सोशल मीडिया पर कैंपेन भी चलाए जा रहे हैं.

ये भी पढ़ें- सरकार का बड़ा फैसला- TikTok, UC ब्राउजर 59 चीनी ऐप्स पर बैन । List

PUBG समेत कई ऐप हो सकते हैं बैन

बिजनेस अखबार इकनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक सरकार कुछ ऐसे ऐपलिकेशन की लिस्ट बना रही है जिसे बैन किया जा सकता है, नई लिस्ट में फेमस गेम पबजी का भी जिक्र है. इसके अलावा ई-कॉमर्स दिग्गज अलीबाबा का अलीएक्सप्रेस और टिकटॉक के मालिकाना हक वाली कंपनी बाइटडांस के रेसो, शाओमी का जिली और यूलाइक ऐप भी शामिल हैं. हालांकि, अगर कोई गड़बड़ी नहीं पाई जाती है तो कोई भी ऐप बैन नहीं होगा.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 27 Jul 2020, 06:48 AM IST
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!