थरूर के बयान पर पात्रा- अब राहुल गांधी को ‘राहुल लाहौरी’ कहेंगे

शशि थरूर ने क्या कहा था?

Published
भारत
2 min read
थरूर के बयान पर पात्रा- अब राहुल गांधी को ‘राहुल लाहौरी’ कहेंगे

कांग्रेस नेता शशि थरूर ने लाहौर लिट फेस्ट में कथित रूप से भारत की कोरोना वायरस महामारी हैंडलिंग की आलोचना की और पाकिस्तान की इस मामले में सराहना की. अब थरूर के इस बयान पर बवाल मच गया है. बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने इस मामले में राहुल गांधी को घेरा है. संबित ने कहा कि राहुल को अब 'राहुल लाहौरी कहा जाना चाहिए'.

पात्रा ने कहा, "जिस तरह से कांग्रेस नेता अंतर्राष्ट्रीय प्लेटफॉर्म्स और खासकर पाकिस्तान में अपने देश को नीचा दिखा रहे हैं, ऐसा लगता है कि राहुल गांधी पाकिस्तान में चुनाव लड़ रहे हैं."

हम बीजेपी में राहुल गांधी को राहुल लाहौरी कहना शुरू करेंगे और मैं आज से उन्हें इसी नाम से बुलाऊंगा. उनके लिए पाकिस्तान में डेब्यू रैली शशि थरूर ने कर दी है.  
संबित पात्रा

'कांग्रेस जल्द बन जाएगी पाकिस्तान नेशनल कांग्रेस'

बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस पार्टी पर हमला बोलते हुए कहा कि वो जल्दी ही इंडियन नेशनल कांग्रेस से 'पाकिस्तान नेशनल कांग्रेस बन जाएगी.' पात्रा ने कहा, "आप भारत के बारे में पाकिस्तान में क्यों रो रहे हैं."

हमें कोई शक नहीं है कि राहुल गांधी भारत से नफरत करते हैं. मैं ये बात पूरी जिम्मेदारी से कह रहा हूं.  
संबित पात्रा

संबित पात्रा ने कहा, "पूरी दुनिया ने देखा कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश ने कैसे काम किया. कोरोना वायरस मरीजों में सबसे अच्छी रिकवरी और सबसे कम मृत्यु दर देखने को मिली."

शशि थरूर ने लाहौर लिट फेस्ट में तबलीगी जमात मामले को लेकर कहा कि 'हम भारत में महामारी की वजह से पैदा हुई कट्टरता और पक्षपात से लड़ रहे हैं." इस पर पात्रा ने कहा, "हम राहुल, प्रियंका और सोनिया गांधी से पूछना चाहते हैं कि क्या कभी उन्होंने पाकिस्तान से पूछा है कि वो अपने अल्पसंख्यकों के साथ कितना न्यायसंगत बर्ताव करते हैं."

शशि थरूर ने क्या कहा था?

लाहौर लिटरेचर फेस्टिवल में कांग्रेस नेता शशि थरूर ने वर्चुअल तरीके से हिस्सा लिया. इस फेस्टिवल में थरूर ने कहा कि 'भारत सरकार कोरोना वायरस महामारी पर ठीक काम नहीं कर रही है और लोग ये समझ रहे हैं.'

इसके अलावा थरूर ने तबलीगी जमात मामले पर कहा, "इसका इस्तेमाल मुसलमानों के खिलाफ खुली कट्टरता और पक्षपात को सही ठहराने के लिए किया गया."

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!