नॉर्थ पोल के ऊपर से उड़ान भरकर इतिहास रच रहीं AI की महिला पायलट

AI कैप्टन जोया अग्रवाल फ्लाइट की कमान संभाल रही हैं. 

Updated
भारत
2 min read
AI कैप्टन जोया अग्रवाल फ्लाइट की कमान संभाल रही हैं
i

एयर इंडिया (AI) की एक टीम, जिसमें महिला पायलट ही शामिल हैं, दुनिया के सबसे लंबे एयर रूट पर नॉर्थ पोल के ऊपर से उड़ान भरकर इतिहास रचने जा रही है. इस हवाई यात्रा के तहत, करीब 16000 किलोमीटर की दूरी तय करते हुए सैन फ्रांसिस्को से 9 जनवरी को एक फ्लाइट बेंगलुरु पहुंचेगी. न्यूज एजेंसी ANI ने इस बात की जानकारी दी है.

इस मामले पर एयर इंडिया के एक अधिकारी ने बताया, ''नॉर्थ पोल के ऊपर से उड़ान भरना बहुत चुनौतीपूर्ण है. एयरलाइन कंपनियां इस रूट पर अपने सर्वश्रेष्ठ और अनुभवी पायलट भेजती हैं. इस बार एयर इंडिया ने पोलर रूट से होते हुए सैन फ्रांसिस्को से बेंगलुरु तक की यात्रा के लिए एक महिला कैप्टन को जिम्मेदारियां दी हैं.''

AI कैप्टन जोया अग्रवाल, जो फ्लाइट की कमान संभाल रही हैं, और उनकी टीम 9 जनवरी को इतिहास रचने के लिए काफी उत्साहित है.

इस ऐतिहासिक यात्रा को लेकर कैप्टन जोया ने कहा, ''सिविल एविएशन मिनिस्ट्री और हमारे फ्लैग कैरियर ने मुझे पर जो भरोसा दिखाया है, उससे मैं काफी खास महसूस कर रही हूं. एक बोइंग 777 इनॉगुरल SFO-BLR, नॉर्थ पोल के ऊपर से दुनिया की सबसे लंबी उड़ानों में से एक की कमान संभालना सुनहरा मौका है.''

इसके साथ ही उन्होंने कहा, ‘’मेरे साथ अनुभवी महिला टीम, जिसमें कैप्टन थनमई, आकांक्षा और शिवानी शामिल हैं, का होना काफी गर्व की बात है. यह पहली बार होगा, जब कोई सिर्फ महिला पायलटों वाली टीम नॉर्थ पोल के ऊपर से उड़ान भरेगी और एक तरह से इतिहास रचेगी. यह वास्तव में किसी भी पेशेवर पायलट के लिए एक सपना सच होने जैसा है.’’

एविएशन एक्सपर्ट्स के मुताबिक, नॉर्थ पोल के ऊपर से उड़ान भरना काफी तकनीकी है और इसके लिए स्किल और अनुभव की जरूरत होती है.

भले ही एयर इंडिया के पायलट पहले भी पोलर रूट से उड़ान भर चुके हैं, लेकिन यह पहली बार होगा कि कोई महिला पायलट टीम नॉर्थ पोल के ऊपर से उड़ान भरेगी.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Published: 
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!