बुलंदशहर हिंसा: सुबोध सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपी योगेश गिरफ्तार
बुलंदशहर हिंसा का मुख्य आरोपी योगेश राज गिरफ्तार
बुलंदशहर हिंसा का मुख्य आरोपी योगेश राज गिरफ्तार(फोटो: Altered by The Quint)
Live

बुलंदशहर हिंसा: सुबोध सिंह हत्याकांड का मुख्य आरोपी योगेश गिरफ्तार

  • 3 दिसंबर को बुलंदशहर में गोकशी की खबरों को लेकर हुई थी हिंसा
  • हिंसा में एक इंस्पेक्टर और एक और शख्स की मौत
  • 27 नामजद और 50 से 60 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज
  • बुलंदशहर हिंसा का मुख्य आरोपी योगेश राज गिरफ्तार
  • मुख्यमंत्री योगी ने समीक्षा बैठक में कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए

(यहां क्लिक कीजिए और बन जाइए क्विंट की WhatsApp फैमिली का हिस्सा. हमारा वादा है कि हम आपके WhatsApp पर सिर्फ काम की खबरें ही भेजेंगे.)

NEWEST FIRSTOLDEST FIRST
(3) NEW UPDATES

योगेश राज गिरफ्तार

बुलंदशहर हिंसा का मुख्य आरोपी योगेश राज गिरफ्तार कर लिया गया है. इस हिंसा में इंस्पेक्टर सुबोध सिंह की हत्या कर दी गई थी. इसके अलावा एक और शख्स की मौत हो गई थी. इससे पहले गुरुवार को सुबोध सिंह का परिवार सीएम योगी आदित्यनाथ से मिला. मुलाकात में योगी ने कहा कि सुबोध सिंह के परिवार के साथ पूरा इंसाफ होगा. हालांकि योगेश ने एक वीडियो जारी कर कहा था कि वह हिंसा में शामिल नहीं था.

Bulandshahr: इंस्पेक्टर सुबोध सिंह पर हमले से ठीक पहले का वीडियो आया सामने

योगी ने कहा, सुबोध सिंह के परिवार को इंसाफ मिलेगा

बुलंदशहर में भीड़ की हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध सिंह के बेटे श्रेय प्रताप सिंह ने कहा है कि सीएम ने उन्हें इंसाफ दिलाने का भरोसा दिया है. सीएम योगी से परिवार सहित मिलने के बाद श्रेय ने यह जानकारी मीडिया को दी.

योगी ने सुबोध सिंह के परिवार को 50 लाख देने का ऐलान किया

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुलंदशहर हिंसा में मारे गए इंस्पेक्टर सुबोध सिंह के परिवार वालों को 50 लाख रुपये मुआवजा देने का ऐलान किया है. इसके अलावा यूपी सरकार सुबोध सिंह के परिवार का सारा कर्ज भी अदा करेगी. परिवार पर 30 लाख का होम लोन है, जिसे चुकाया जाएगा. बच्चों की पढ़ाई के लिए लिया गया लोन भी चुकाया जाएगा. यह जानकारी यूपी डीजीपी ने दी.

शहीद के परिवार से सीएम योगी की मुलाकात

बुलंदशहर में गोकशी की अफवाह के बाद भड़की हिंसा में शहीद हुए इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के परिवार ने आज सुबह सीएम योगी आदित्यनाथ से उनके सरकारी आवास पर मुलाकात की. बता दें कि योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को सुबोध कुमार के परिवार को मिलने के लिए लखनऊ बुलाया था.

बुलंदशहर हिंसाः एक नजर में पूरा घटनाक्रम

बुलंदशहर सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, थाना कोतवाली क्षेत्र के गांव महाव के जंगल में रविवार की रात अज्ञात लोगों ने कथित तौर पर करीब 25-30 गोवंश काट डाले थे. यह सूचना मिलने पर लोगों में आक्रोश फैल गया.

गुस्साए लोग घटनास्थल पर पहुंचे और कथित तौर पर काटे गए गोवंश के गोवंश अवशेषों को ट्रैक्टर ट्रॉली में भरकर सोमवार सुबह चिंगरावठी पुलिस चौकी पर पहुंचे. गुस्साई भीड़ ने बुलंदशहर-गढ़ स्टेट हाईवे पर ट्रैक्टर ट्रॉली लगाकर रास्ता जाम कर दिया और पुलिस प्रशासन के खिलाफ जोरदार नारेबाजी शुरू कर दी.

सूचना मिलने पर एसडीएम अविनाश कुमार मौर्य और सीओ एसपी शर्मा पहुंचे. इसके बाद लोगों का गुस्सा भड़क गया और उन्होंने पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया. बेकाबू भीड़ ने पुलिस के कई वाहन फूंक दिए. साथ ही चिंगरावठी पुलिस चौकी में आग लगा दी. जिसमें इंस्पेक्टर सुबोध कुमार की मौत हो गई.

Follow our भारत section for more stories.

    वीडियो