वैक्सीन लगाते जब PM ने नर्स से कहा-‘नेताओं की चमड़ी मोटी होती है’

कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए सोमवार को एम्स में पहुंचे प्रधानंत्री मोदी ने कुछ ऐसा कहा कि दोनों नर्स हंस पड़ीं.

Published
भारत
2 min read
वैक्सीन लगाते जब PM ने नर्स से कहा-‘नेताओं की चमड़ी मोटी होती है’
i

कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिए सोमवार को एम्स में पहुंचे प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ ऐसा कहा कि दोनों नर्स हंस पड़ीं. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि नेताओं की चमड़ी मोटी होती है, इस नाते पशुओं वाली मोटी सुई लगाना. जिस पर नर्सो ने कहा कि नहीं सर, आपको नॉर्मल सुई ही लगेगी.

1 मार्च की सुबह पीएम मोदी ने लगवाया कोरोना वैक्सीन

दरअसल, प्रधानमंत्री मोदी आम आदमी की परेशानी को ध्यान में रखते हुए बगैर पूर्व निर्धारित प्लान के ही एम्स सुबह-सुबह पहुंच गए थे. उनके एम्स कैंपस में दाखिल होने पर स्टाफ को जानकारी हुई. प्रधानमंत्री मोदी जब सुबह साढ़े छह बजे वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचे तो उन्हें देखकर स्टाफ काफी गंभीर मुद्रा में नजर आया. जिस पर प्रधानमंत्री मोदी ने माहौल को हल्का करने के लिए स्टाफ के नाम और निवास का स्थान पूछा.

मौके पर मौजूद एक नर्स ने बताया कि वह सिस्टर निवेदा हैं और पुदुचेरी की रहने वाली हैं, दूसरी नर्स ने खुद को केरल का निवासी और नाम रोसम्मा अनिल बताया. इसके बाद पीएम मोदी ने पूछा- पशुओं को लगने वाली सीरिंज लाई हो न? इस पर नर्स निवेदा ने कहा- नो सर. प्रधानमंत्री मोदी को लगा कि नर्स पूरी बात नहीं समझ पाईं. जिस पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि नेताओं की चमड़ी मोटी होती है, इस नाते उन्हें मोटी सुई की जरूरत होती है. यह सुनकर दोनों नर्स हंस पड़ीं.

PM ने लिया भारत बायोटेक की वैक्सीन का डोज

पीएम मोदी को स्वदेशी वैक्सीन कोवैक्सीन लगाई गई. इससे लोगों को ये मैसेज देने की कोशिश की गई कि भारत बायोटेक की वैक्सीन पूरी तरह से सेफ है. पीएम ने वैक्सीन की पहली डोज लेने के साथ-साथ लोगों से भी वैक्सीन लगवाने को कहा. इसे लेकर एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने भी कहा है कि, पीएम ये दिखाना चाहते थे कि दोनों ही वैक्सीन सेफ और कारगर हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!