लॉकडाउन के दूसरे दिन देश के अलग-अलग हिस्सों का क्या है हाल?
लैकडाउन में क्या देश का हाल
लैकडाउन में क्या देश का हाल(फोटो: ANI)

लॉकडाउन के दूसरे दिन देश के अलग-अलग हिस्सों का क्या है हाल?

लॉकडाउन का आज दूसरा दिन है. 25 मार्च को पीएम नरेंद्र मोदी ने देश में कोरोनावायरस के बढते मामलों को देखते हुए लॉकडाउन का ऐलान किया था. लॉकडाउन के दूसरे दिन , देसभर से अलग-अलग तस्वीरें आ रही हैं, लॉकडाउन के बीच लोग क्या कर रहे हैं.

Loading...
पीएम मोदी की घोषणा के बाद गृह मंत्रालय ने जरूरी गाइडलाइन जारी की थीं. इन गाइडलाइन में गृह मंत्रालय ने साफ किया है कि पिछले दिनों चले लॉकडाउन की तरह ही सभी इमरजेंसी और आवश्यक जरूरतों से जुड़ी सेवाओं और सामान को रोका नहीं जाएगा.

पश्चिम बंगाल के एक गांव में लोग इस तरह से बैरिकेटिंग कर घरों से बाहर नहीं निकलने की कोशिश कर रहे हैं.

आंध्र प्रदेश में एक पेट्रोल पंप के कर्मचारी क्रिकेट खेलते नजर आए.

जम्मू-कश्मीर में लोगों ने कोरोना के डर से अखबार तक लेने बंद कर दिए है, जिसका अखबार का सर्कुलेशन काफी गिर गया है.

दिल्ली-नोएडा बॉर्डर पर सिर्फ मीडिया और डॉक्टरों को जाने की परमिशन दी जा रही है.

कोरोनावायरस के चलते छतरपुर का मंदिर पूरी तरह से बंद कर दिया गया है.

नोएडा में लोग सुबह-सुबह दूध और सब्जियां खरीदने पहुंचे

कर्नाटक में देशभर में जारी लॉक डाउन के बीच बड़ी संख्या में लोग आवश्यक वस्तुओं को खरीदने के लिए हुबली के गांधी बाजार में पहुंचे.

आंध्र प्रदेश में रेलवे ने रेलकर्मियों और लोगों को कोरोनावायरस की महामारी से बचाने और सामाजिक दूरी बनाए रखने के लिए नगरपालिका के साथ मिल बाजार को एक खुले मैदान में शिफ्ट किया

उत्तर प्रदेश की 71 जेलों में से 63 जेलों ने कोरोना वायरस की महामारी के चलते 10 दिनों में 1,24,500 से भी ज्यादा मास्क बनाने का रिकॉर्ड बनाया.

भारत में कोरोनावायरस के मामलों में बढ़ोतरी लगातार जारी है. स्वास्थ्य मंत्रालय के के मुताबिक, देश में कोरोना पॉजिटिव के मामले 600 के पार पहुंच चुके हैं. देश में इस वायरस के 593 एक्टिव केस सहित अब तक 649 कन्फर्म केस सामने आए हैं.

ये भी पढ़ें- ये भी पढ़ें : देश में कोरोना के 600 से ज्यादा केस,इन 15 शहर में सबसे ज्यादा मरीज

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our भारत section for more stories.

    Loading...