हवा की रफ्तार से दिल्ली-NCR ने ली राहत की सांस, प्रदूषण हुआ कम
दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के स्तर में आई कमी 
दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण के स्तर में आई कमी (फोटो: PTI)

हवा की रफ्तार से दिल्ली-NCR ने ली राहत की सांस, प्रदूषण हुआ कम

दिल्ली-एनसीआर में हवा में प्रदूषण का स्तर अब कुछ हद तक कम होता नजर आ रहा है. बताया जा रहा है कि हवा की रफ्तार बढ़ने के चलते प्रदूषण के स्तर में कमी आई है. वहीं दिल्ली सरकार की तरफ से लागू किए गए ऑड-ईवन से भी कुछ राहत मिली है. जहां पिछले कुछ दिनों से एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 500 के आंकड़े को छूता दिख रहा था, वहीं अब ये घटकर 356 हो चुका है.

Loading...

अभी भी खतरनाक स्तर पर प्रदूषण

प्रदूषण के स्तर में कुछ हद तक कमी जरूर आई है, लेकिन अभी भी यह खतरनाक स्तर पर है. बीमार लोगों के अलावा आम लोगों के लिए अभी भी खुली हवा में सांस लेना सेफ नहीं है. लेकिन उम्मीद जताई जा रही है कि अगले कुछ दिनों में हवा की गुणवत्ता में सुधार देखने को मिलेगा.

दिल्ली में बुधवार सुबह सोनिया विहार में प्रदूषण का स्तर 314, जहांगीरपुरी में 198, बवाना में 205, मुंडका में 192, शहादरा में 166, पंजाबी बाग 187 और आरके पुरम में 168 रहा. वहीं गाजियाबाद की अगर बात करें तो यहां के संजय नगर में एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 193 था. नोएडा में भी एयर क्वॉलिटी इंडेक्स में सुधार देखने को मिला. बुधवार सुबह नोएडा के सेक्टर 62 में एयर क्वॉलिटी इंडेक्स 181 और ग्रेटर नोएडा में 190 रहा.

एयर क्वॉलिटी इंडेक्स (AQI) 0-50 के बीच ‘अच्छा’, 51-100 के बीच ‘संतोषजनक’, 101-200 के बीच ‘मध्यम’, 201-300 के बीच ‘खराब’, 301-400 के बीच ‘बेहद खराब’, 401-500 के बीच ‘गंभीर’ और 500 के पार ‘बेहद गंभीर’ माना जाता है.

ये भी पढ़ें : पॉडकास्ट। प्रदूषण और सियासत से बेहाल क्या दिल्ली रहने लायक भी है?

हवा की रफ्तार ने किया कमाल

प्रदूषण की मार से बेहाल दिल्ली-एनसीआर में रहने वाले लोगों के लिए हवा की रफ्तार राहत लेकर आई. मौसम विभाग (आईएमडी) ने कहा है कि 25 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार की हवाओं ने प्रदूषकों को तेजी से छितरा दिया है. आईएमडी के क्षेत्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया, ‘‘पश्चिमी विक्षोभ के कारण बुधवार रात और बृहस्पतिवार को उत्तर-पश्चिम भारत में बारिश के अच्छे आसार हैं. दिल्ली-एनसीआर, जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, पश्चिमी उत्तरप्रदेश में बारिश होगी.’’

ये भी पढ़ें : प्रदूषण पर SC की फटकार, कहा- क्या कर रही केंद्र और दिल्ली सरकार?

(हैलो दोस्तों! WhatsApp पर हमारी न्यूज सर्विस जारी रहेगी. तब तक, आप हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our भारत section for more stories.

वीडियो

Loading...