दिल्ली दंगे मामले की आरोपी गुलफिशा फातिमा को मिली जमानत 

फातिमा फरवरी 2020 में हुए उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगों की आरोपी हैं

Published
भारत
1 min read
फातिमा फरवरी 2020 में हुए उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगों की आरोपी हैं
i

दिल्ली के कड़कड़डूमा कोर्ट ने 28 साल की UAPA आरोपी गुलफिशा फातिमा को जमानत दे दी है. फातिमा फरवरी 2020 में हुए उत्तर-पूर्वी दिल्ली दंगों की आरोपी हैं.

फातिमा को अप्रैल में जाफराबाद और सीलमपुर इलाके में नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटीजन (NRC) के खिलाफ हुए प्रदर्शनों में भूमिका के लिए गिरफ्तार किया गया था.

एडिशनल सेशंस जज अमिताभ रावत ने 21 नवंबर को जमानत देने का ऐलान किया. जमानत CrPC के सेक्शन 439 के तहत दी गई है. आरोपी के 30,000 रुपये का निजी मुचलका भरने के आधार पर जमानत दी गई.  

जाफराबाद पुलिस स्टेशन में दर्ज दिल्ली दंगों की FIR 50 में मिली जमानत में कुछ शर्ते भी हैं. आरोपी गुलफिशा फातिमा दिल्ली NCT का अधिकारक्षेत्र छोड़कर नहीं जा सकती हैं, किसी आपराधिक गतिविधि में शामिल नहीं होंगी और सभी कोर्ट सुनवाई को अटेंड करेंगी.

साजिश के जिस मामले में फातिमा पर UAPA का आरोप लगा है, उसके लिए जज ने कहा कि 'वो केस जब आएगा, तब उसे देखा जाएगा.' साजिश के मामले की जांच दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की स्पेशल सेल कर रही है.

जज ने डिफेंस का ये तर्क भी विचार में लिया कि सह-आरोपी देवांगना कलिता और नताशा नरवाल को जमानत मिलने के बाद समानता के आधार पर फातिमा को भी जमानत मिलनी चाहिए. पिंजरा तोड़ एक्टिविस्ट कालिता और नरवाल को सितंबर में बेल मिली थी.

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!