PM मोदी की नहीं सुनते गोरक्षक! दलितों पर हिंसा जारी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटोः IANS)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (फोटोः IANS)

PM मोदी की नहीं सुनते गोरक्षक! दलितों पर हिंसा जारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की चेतावनी के बाद भी देश के अलग-अलग हिस्सों में दलितों के प्रति हो रही हिंसा की खबरें आ रही हैं. कहीं गोरक्षा के नाम पर तो कहीं छूआछूत के नाम पर दलितों का उत्पीड़न किया जा रहा है.

राज्यसभा में फिर गरमाया दलित मुद्दा

बुधवार को एक बार फिर राज्यसभा में दलितों के प्रति हो रही हिंसा की घटनाओं का मामला गरमाया. बीएसपी नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने आंध्र प्रदेश में दलितों को पीटे जाने का मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि जिन राज्यों में भी बीजेपी और उसके सहयोगी दलों की सरकारें हैं, उन राज्यों में दलितों के प्रति हिंसा की घटनाएं बढ़ी हैं.

मृत गाय की खाल निकालने पर दलितों से मारपीट

गुजरात के ऊना के बाद अब आंध्र प्रदेश के अमलपुरम में कथित गोरक्षकों द्वारा दलितों को पीटने का मामला सामने आया है. जानकारी के मुताबिक, मृत गाय की खाल निकाल रहे दलित समुदाय के दो युवकों और एक ऑटो ड्राइवर को सात लोगों ने पीटा. पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है. वहीं अन्य पांच आरोपी अभी तक फरार हैं.

दलित बच्ची को पानी पीने से रोका

बुधवार को उत्तर प्रदेश के संभल जिले के गन्नौर में एक मंदिर के पुजारी ने दलित समुदाय से ताल्लुक रखने वाले 13 साल की लड़की को पानी पीने से मना कर दिया. जब लड़की के पिता ने इस मामले को हवा देने की कोशिश की तो मंदिर के पुजारी ने अपने एक साथी के साथ उस पर हमला बोल दिया.

इस मामले में स्थानीय पुलिस ने पुजारी और उसके साथी के खिलाफ एससी-एसटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है.

बीएसपी चीफ ने बताया शर्मनाक

यूपी के संभल में हुई छुआछूत की घटना को बीएसपी चीफ मायावती ने बेहद ही शर्मनाक करार दिया. उन्होंने कहा कि दलित बच्ची को पानी न पीने देने की घटना दलितों का अपमान है.

बीएसपी चीफ ने इस मामले में राज्य सरकार से कड़ी कार्रवाई करने की अपील की है.

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के WhatsApp या Telegram चैनल से)

Follow our भारत section for more stories.

    वीडियो