वोट देते नजर आए बच्चे, वीडियो में दिखा ‘बंगालतंत्र’

पश्चिम बंगाल में दो बच्चों ने अपने परिवारवालों की जगह वोट डालने की बात कबूली

Published12 May 2019, 03:46 PM IST
भारत
2 min read

लोकसभा चुनावों के छठे चरण में देश की 59 सीटों पर वोट डाले गए. मतदाताओं ने बढ़-चढ़कर वोटिंग में हिस्सा लिया. लेकिन पश्चिम बंगाल में वैध वोटरों की जगह नाबालिग वोट डालते नजर आए.

पैरामिलिट्री फोर्स के एक जवान के एक वीडियो में दिखाई दे रहा है कि बंगाल के घाटाल में पोलिंग बूथ 79 और 80 पर दो बच्चों ने अपने परिवारवालों की जगह वोट डालने की बात कबूली. इन नाबालिग बच्चों को वोट डालने के लिए उनके घरवालों ने भेजा था.

जवान ने जब बच्चों से उनकी उम्र पूछी, तो एक बताया कि उसकी उम्र 17 साल है और वो नौवीं में पढ़ता है. बच्चे ने बताया कि उसने अपने बड़े भाई की जगह वोट डाला. जब उससे पूछा गया कि उसे वोट डालने किसने भेजा है, तो उसका जवाब था, 'बाबा.'

वहीं दूसरे बच्चे ने तुरंत अपनी उम्र जवानों को नहीं बताई. उसने पहले कहा कि उसकी उम्र 18 साल है, और उसके पास खुद का वोटर स्लिप है. जब जवान ने फिर पूछा तो उसने बताया कि वो भी पोलिंग बूथ पर अपने भाई के बदले वोट डालने गया था.

पैरामिलिट्री जवानों को हिंसा की धमकी

आज ही के दिन, घाटल में पैरामिलिट्री जवानों के साथ हिंसा का एक वीडियो सामने आया है. एक पोलिंग स्टेशन पर गुस्साई भीड़ ने पैरामिलिट्री जवानों को हिंसा की धमकी दी. इस वीडियो को एक अज्ञात जवान ने बनाया है और कहा जा रहा है कि भीड़ में कथित लोग टीएमसी कार्यकर्ता थे.

वीडियो में कुछ लोग जवानों को धमकाते दिख रहे हैं. वीडियो के अंत में जवान कहता है, 'देखिए यह भीड़ किस तरह से हमारे साथ मारपीट करने आ रही है. ऐसा बूथ नंबर 89 और 88 पर हो रहा है.

वहीं दूसरी ओर, टीएमसी का आरोप है कि केंद्रीय बल पश्चिम बंगाल में लोगों को बीजेपी को वोट डालने को मजबूर कर रही हैं. टीएमसी ने इस मामले में चुनाव आयोग में शिकायत भी दर्ज कराई. टीएमसी ने अपने ऑफिशियल ट्विटर हैंडल से ये ट्वीट भी किया.

ये वीडियो बौजारा प्राइमरी स्कूल में शूट किया गया है, जिसे घाटाल में एक पोलिंग सेंटर बनाया गया था.

यह घटना पश्चिम बंगाल में इस चुनावी मौसम में हुई हिंसक झड़पों में सबसे नई है. इससे पहले, घाटाल से बीजेपी की उम्मीदवार भारती घोष हिंसा का शिकार हुई थीं. रविवार को वोटिंग के दौरान घोष केशपुर के एक पोलिंग बूथ का दौरा कर रही थीं. इसी दौरान महिलाओं के एक ग्रुप ने उनके साथ धक्का-मुक्की की कोशिश की. मीडिया में चले रहे वीडियो में भारती रोती हुई दिखाई दे रही हैं.

वहीं, बीजेपी के बैरकपुर से उम्मीदवार अर्जुन सिंह पर सोमवार को टीएमसी कार्यकर्ताओं ने कथित रूप से हमला किया गया था. इससे पहले, आसनसोल में कांग्रेस और टीएमसी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसा भड़क गई थी.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर को और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!