जमीन के मुआवजे के लिए DND फ्लाईवे  पर दूसरे दिन भी डटे रहे किसान

जमीन के मुआवजे के लिए DND फ्लाईवे  पर दूसरे दिन भी डटे रहे किसान

भारत

2 फरवरी को यूपी के कई हिस्सों से आए किसानों को पुलिस ने डीएनडी फ्लाइवे पर ही रोक लिया जब वो दिल्ली में प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ कूच कर रहे थे.

डीएनडी फ्लाईवे, जो यूपी और दिल्ली को जोड़ने वाली सबसे प्रमुख रूट है, वहां 1 फरवरी की शाम को हजारों किसानों का जमावड़ा लग गया. इस वजह से ट्रैफिक जाम की भी परेशानी हुई.

पहले दिन शुक्रवार को किसान उदय अभियान के करीब 500 किसान यूपी के कई हिस्सों से अपनी जमीन के बदले सरकार से उचित दाम की मांग को लेकर विरोध कर रहे थे.

‘‘साल 2008 में राज्य में बीएसपी सरकार ने और केंद्र की कांग्रेस सरकार ने भूमि अधिग्रहण का सेक्शन 17 लगाया था और गलत तरीके से किसानों की जमीनें यमुना एक्सप्रेसवे के लिए ले ली. मौजूदा बीजेपी सरकार ने हमसे ये वादा किया था कि किसानों को जमीनों का मुआवजा दिया जाएगा, मगर हमारे लिए कुछ नहीं हुआ.’’
शहाबुद्दीन खान, किसान
(फोटो: द क्विंट)

किसानों ने कहा कि ये विरोध पिछले 26 महीनों से चल रहा है, पर सरकार उनकी मुआवजा की मांग को ठुकरा चुकी है.

किसानों के विरोध से 1 फरवरी को डीएनडी रहा बंद

किसानों के विरोध के कारण दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने ट्वीट कर बताया कि, ‘‘किसानों के जुलूस/धरना प्रदर्शन के कारण नोएडा से दिल्ली आने वाले मार्ग- डीएनडी को बंद कर दिया गया है.’’

द क्विंट से प्रदर्शन कर रहे एक किसान ने बताया,

‘‘हम प्रधानमंत्री कार्यालय जा रहे थे अपनी समस्याओं को लेकर. हम अपनी लेन में शांति से चल रहे थे, ट्रैफिक पुलिस ने हमें रोका और फ्लाइवे बंद कर दिया.’’
ब्रम्हानंद, मंडोला के किसान

मीडिया से बात करते हुए, जिला मजिस्ट्रेट बीएन सिंह ने बताया कि 5 किसानों का एक प्रतिनिधी मंडल इस मामले को सुलझाने के लिए अगले हफ्ते सीएम योगी आदित्यनाथ से मुलाकात करेगा. उन्होंने ये भी कहा कि किसान अपना विरोध जारी रखते हुए वहीं(डीएनडी) रहना चाहते हैं.

ये भी पढ़ें : ऋषि कुमार शुक्ला बने CBI के नए डायरेक्टर, खड़गे ने जताई आपत्ति

(सबसे तेज अपडेट्स के लिए जुड़िए क्विंट हिंदी के WhatsApp या Telegram चैनल से)

Follow our भारत section for more stories.

भारत

    वीडियो