आज होगी भारत-चीन के बीच पांचवें दौर की कमांडर स्तर की बातचीत

बातचीत में भारत का ध्यान फिंगर एरिया में तनाव कम करने पर होगा

Published02 Aug 2020, 04:10 AM IST
भारत
1 min read

भारत और चीन की आर्मी के बीच आज LAC पर चीन की तरफ स्थित माल्दो में कॉर्प्स कमांडर लेवल की बातचीत होगी. इस दौरान भारत का फोकस मुख्यत: फिंगर एरिया में दोनों सेनाओं के बीच डिसएंगेजमेंट पर होगा. यह पांचवे दौर की बातचीत है.

इससे पहले चार दौर की बातचीत के जरिए गलवान घाटी और हॉट स्प्रिंग प्वाइंट समेत अहम जगहों पर तनाव कम हुआ है.

29 जुलाई को हुई थी चौथे दौर की बैठक

बता दें 29 जुलाई की बैठक के बाद चीन ने कहा था कि दोनो देशों के फ्रंटलाइन सैनिकों ने सीमा पर ज्यादातर जगहों पर पीछे हटने की प्रक्रिया पूरी कर ली है. चीन ने कहा था कि जमीनी स्तर पर तनाव कम हो रहा है. बयान में कहा गया था,

फ्रंटलाइन सैनिक ज्यादातर जगहों से पीछे हट गए हैं, इसलिए जमीनी स्तर पर तनाव कम हो रहा है. हमने कमांडर स्तर की चार दौर की बातचीत की और परामर्श और समन्वय के लिए कार्यकारी तंत्र (डब्ल्यूएमसीसी) की तीन बैठकें कीं.
आधिकारिक बयान में चीन

हालांकि, चीन के बयान पर भारत सरकार या भारतीय सेना की ओर से अभी कोई आधिकारिक पुष्टि या प्रतिक्रिया सामने नहीं आई थी.

बता दें 15-16 जून के बीच की रात में भारत और चीन के सैनिकों के बीच खूनी झड़प हुई थी, जिसमें 20 भारतीय सैनिक शहीद हो गए थे. वहीं कई चीनी सैनिकों के मारे जाने की भी पुष्टि हुई थी. हालांकि उस हिंसक झड़प में गोला-बारूद और बंदूकों का उपयोग नहीं किया गया था. यह झड़प 45 साल में दोनों देशों के बीच हुई पहली हिंसक झड़प थी.

पढ़ें ये भी: संडे व्यू: J&K में त्रासदी का अंत नहीं, नायक पूजा से देश को नुकसान

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!