ADVERTISEMENT

भारतीय सेना को मिलेगी नयी यूनिफॉर्म, क्या होंगे मुख्य बदलाव ?

नई वर्दी को नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (NIFT) के सहयोग से डिजाइन किया गया है

Published
भारत
2 min read
<div class="paragraphs"><p>भारतीय सेना को मिली नयी यूनिफॉर्म क्या होंगें मुख्य बदलाव / प्रतिकात्मत तस्वीर</p></div>
i

भारतीय सेना (Indian Army) को जल्द ही नयी यूनिफॉर्म मिलने जा रही है .सेना दिवस परेड के दौरान शनिवार, 15 जनवरी 2022 को परेड ग्राउंड में भारतीय सेना की नई वर्दी का प्रदर्शन किया गया. फाइनेंशियल एक्सप्रेस ऑनलाइन की रिपोर्ट के अनुसार इस नई वर्दी को नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फैशन टेक्नोलॉजी (NIFT) के सहयोग से डिजाइन किया गया है.

ADVERTISEMENT

क्या होंगे मुख्य बदलाव

रिपोर्ट के अनुसार इसे एर्गोनोमिकली डिजाइन किया गया है. यह ऑपरेशनली रूप से प्रभावी है. और इससे अब अलग-अलग इलाकों के लिए अलग-अलग वर्दी रखने की जरुरत नहीं होगी. जैसे पहले जंगल वार, डेजर्ट वार के लिए अलग अलग वर्दी थी. इस नई वर्दी में डिसरप्टिव पैटर्न के अलावा कुछ बदलाव भी होंगे.

इसको बनाने में एक हल्के कपड़े का इस्तेमाल होगा और इसे न केवल कठोर जलवायु परिस्थितियों से बचाने के लिए डिजाइन किया गया है, बल्कि आराम को ध्यान में रखते हुए, सैनिक के पहनावे को केमाफ्लोग (छलावा) प्रदान करने और उत्तरजीविता को बढ़ाने के लिए डिजाइन किया गया है.

NIFT ने इसे फाइनल करने से पहले चार अलग-अलग फैब्रिक, आठ अलग-अलग डिजाइन और लगभग 15 पैटर्न का अध्ययन किया.

यह कॉटन और पॉलिएस्टर का कॉम्बिनेशन होने जा रहा है और यह 70:30 के अनुपात में होगा. इस कॉम्बिनेशन के साथ विभिन्न मौसम स्थितियों, बारिश या गर्मी में पहनना आसान होगा क्योंकि यह आसानी से और तेजी से सूख जाएगा और इसका हल्का वजन होगा. यह गर्मियों और सर्दियों में अधिक टिकाऊ होगी.

नई वर्दी में रंगों का मिश्रण होगा जिसमें ऑलिव ग्रीन, अर्थर्न शेड्स शामिल हैं, जो विभिन्न इलाकों और सैनिकों की तैनाती के क्षेत्रों के साथ-साथ चरम मौसम की स्थिति को ध्यान में रख कर लिए गए है.

पूर्व अधिकारियों के मुताबिक सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यूनिफॉर्म बदलने का फैसला लिया गया है. कई अन्य देशों की वर्दी का अध्ययन करने वाले स्टेकहोल्डर्स के साथ विचार-विमर्श के बाद नए बदलाव किए गए हैं.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT