सरकार ने 1.1 करोड़ कोविशिल्ड और 55 लाख कोवैक्सीन की खुराक खरीदी

कोविड-19 टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू होने वाला है.

Published
भारत
1 min read
सरकार ने 1.1 करोड़ कोविशिल्ड और 55 लाख कोवैक्सीन की खुराक खरीदी
i

देशव्यापी कोविड-19 टीकाकरण अभियान शुरू होने से कुछ दिन पहले, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को कहा कि 200 और 206 रुपये प्रति खुराक (डोज) की लागत से क्रमश: 1.1 करोड़ कोविशिल्ड और 55 लाख कोवैक्सीन के टीके खरीदे गए हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान कहा, "कोविशिल्ड वैक्सीन की 110 लाख (1.1 करोड़) खुराक को करों (टैक्स) को छोड़कर 200 रुपये प्रति खुराक की लागत से भारत के सीरम इंस्टीट्यूट से खरीदा जा रही है. भारत बायोटेक से कोवैक्सीन की कुल 55 लाख खुराकें खरीदी जा रही हैं."

कितनी है लागत?

उन्होंने कहा, "करों को छोड़कर, कोवैक्सीन की 38.5 लाख खुराक की लागत प्रति खुराक 295 रुपये है. भारत बायोटेक केंद्र सरकार को कोवैक्सीन की 16.5 लाख खुराक मुफ्त दे रहा है. इसलिए, कोवैक्सीन की लागत प्रति खुराक 206 रुपये आई है."

अभियान से पहले कुछ राज्यों में टीके पहुंच चुके हैं. शाम चार बजे तक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को लगभग 54,72,000 खुराक भेजी जा चुकी है. 14 जनवरी तक सभी जगहों पर 100 प्रतिशत खुराक पहुंच जाएंगी.

16 जनवरी से शुरू होने वाला है टीकाकरण अभियान

बहुप्रतीक्षित कोविड-19 टीकाकरण अभियान 16 जनवरी को शुरू होने वाला है. केंद्र सरकार ने अभियान के पहले चरण में लगभग 30 करोड़ लोगों को टीकाकरण करने की योजना बनाई है. स्वास्थ्य सेवा और अग्रिम पंक्ति के वर्करों को प्राथमिकता दी जाएगी, जिनकी अनुमानित संख्या लगभग तीन करोड़ है. इसके बाद टीका प्राप्त करने वालों में गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोग और बुजुर्ग शामिल हैं, जिनकी संख्या 27 करोड़ है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!