मुंबई:कोविशील्ड की दोनों डोज लेने के बाद MBBS छात्र कोरोना पॉजिटिव

सायन हॉस्पिटल के डीन ने कहा- इम्युनिटी बनने में लगता है वक्त

Published
भारत
2 min read
सांकेतिक तस्वीर
i

भारत में कोरोना वैक्सीनेशन का दूसरा चरण शुरू हो चुका है. अब तक करोड़ों लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है, जिनमें हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स शामिल हैं. लेकिन इसी बीच मुंबई के सायन हॉस्पिटल से एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बावजूद शख्स कोरोना पॉजिटिव पाया गया है. यहां एमबीबीएस का फाइनल ईयर का छात्र कोरोना पॉजिटिव पाया गया है, जिसे सीरम इंस्टीट्यूट में तैयार की गई वैक्सीन कोविशील्ड की दो डोज लगाई गई थीं.

कोरोना के लक्षण दिखने के बाद सामने आया मामला

बताया गया है कि एमबीबीएस के छात्र में वायरल इंफेक्शन जैसे कुछ लक्षण पाए जाने के बाद उसका कोरोना टेस्ट किया गया, जिसमें वो पॉजिटिव निकला. इसके बाद उसे सेवन हिल्स हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया. साथ ही छात्र के साथ रहने वाले कुछ और लोगों को भी क्वारंटीन में भेज दिया गया.

इस घटना को लेकर हमने मुंबई के सायन हॉस्पिटल के डीन मोहन जोशी से बात की. उन्होंने बताया कि,

“वैक्सीन की डोज लेने के बाद भी संक्रमित होना कोई बड़ी बात नहीं है. ऐसा हो सकता है, क्योंकि वैक्सीन लेने पर इम्युनिटी बनने में समय लगता है. इसीलिए वैक्सीन लेने के बाद भी हमें सावधानी बरतना बहुत जरूरी है.”

कर्नाटक में भी संक्रमित हुए थे डॉक्टर

बता दें कि इसी तरह का मामला कर्नाटक के चमराजानगर से भी सामने आया था. जहां 4 ऐसे डॉक्टर कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे, जिन्हें वैक्सीन लगाई जा चुकी थी. इनमें से दो डॉक्टरों ने कोवैक्सीन और बाकी दो ने कोविशील्ड वैक्सीन लगवाई थी. हालांकि इन सभी डॉक्टरों को पहली डोज लगवाने के कुछ दिनों बाद संक्रमण हुआ था. मुंबई में सामने आए मामले में दोनों वैक्सीन डोज लगाई जा चुकी थीं.

हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज के साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ था, उन्होंने ट्रायल के दौरान भारत बायोटेक की कोवैक्सीन लगवाई थी, लेकिन इसके कुछ ही हफ्तों के बाद वो कोरोना पॉजिटिव पाए गए.

इन तमाम मामलों से ये साफ है कि वैक्सीन लगवाने के बावजूद संक्रमण का खतरा कहीं न कहीं बना रहता है. इसीलिए वैक्सीन लगवाने के बाद भी सावधानी बरतना जरूरी है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!