ADVERTISEMENT

कश्मीर में पुलिस पर पथराव का पुराना वीडियो, जयपुर का बताकर वायरल

ये वीडियो 2017 का है, जब कश्मीर के अनंतनाग में प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हो गई थी.

Published
<div class="paragraphs"><p>ये वीडियो 2017 का है, जब कश्मीर के अनंतनाग में प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हो गई थी.</p></div>
i

सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में प्रदर्शनकारी पुलिस पर पथराव करते दिख रहे हैं. वीडियो को राजस्थान (Rajasthan) के सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) पर तंज कसते हुए शेयर किया जा रहा है. दावा किया जा रहा है कि ये वीडियो राजस्थान के जयपुर का है.

हालांकि, हमने पाया कि 2017 में कश्मीर के अनंतनाग में प्रदर्शनकारियों और पुलिस के बीच झड़प हो गई थी ये वीडियो तब का है. ये झड़प तब शुरू हुई जब म्यांमार में रोंहिग्या मुसलमानों के उत्पीड़न के विरोध में भारी भीड़ इकट्ठा हुई थी और पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने की कोशिश की थी.

ADVERTISEMENT

क्विंट ने एक स्थानीय रिपोर्टर मुनीब-उल-इस्लाम से भी बात की. मुनीब-उल-इस्लाम उस दिन घटना को कवर कर रहे थे. उन्होंने बताया कि ये वीडियो अनंतनाग का ही है.

दावा

वीडियो शेयर कर ये दावा किया जा रहा है कि ये घटना जयपुर में हुई. साथ ही, इस स्थिति की तुलना जम्मू-कश्मीर से की जा रही है.

<div class="paragraphs"><p>पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए <a href="https://perma.cc/9CR8-WUKT">यहां</a> क्लिक करें</p></div>

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

इस वीडियो को कई यूजर्स ने फेसबुक और ट्विटर पर इसी तरह के दावे के साथ शेयर किया है. इनके आर्काइव आप यहां, यहां और यहां देख सकते हैं.

हमारी WhatsApp टिपलाइन पर भी वीडियो से जुड़ी क्वेरी आई है.

पड़ताल में हमने क्या पाया

वायरल वीडियो में एक दुकान का नाम दिखा, जिसमें 'Western Hosiery' और 'Satho' लिखा दिख रहा है.

<div class="paragraphs"><p>बोर्ड में&nbsp;'Western Hosiery'  लिखा दिख रहा है.</p></div>

बोर्ड में 'Western Hosiery' लिखा दिख रहा है.

(फोटो: Altered by The Quint)

गूगल मैप्स पर 'Western Hosiery' चेक करने पर हमने पाया कि इस दुकान का पता 'लाल चौक, अनंतनाग, जम्मू और कश्मीर' है. हालांकि, 'Western Hosiery' से जुड़े विजुअल नहीं मिले, लेकिन फिर भी हम वीडियो में दिख रहे इस एरिया को गूगल मैप्स पर उपलब्ध फोटो से मिलान कर पाए. जिसे आप नीचे देख सकते हैं.

<div class="paragraphs"><p>वायरल वीडियो और गूगल मैप्स पर उपलब्ध फोटो के बीच समानता दिखाने वाले विजुअल</p></div>

वायरल वीडियो और गूगल मैप्स पर उपलब्ध फोटो के बीच समानता दिखाने वाले विजुअल

(फोटो: Altered by The Quint)

यहां से संकेत लेकर, हमने स्थानीय रिपोर्ट मुनीब-उल-इस्लाम से संपर्क किया. उन्होंने हमें बताया कि ये वीडियो 2017 में अनंतनाग में हुई घटना का है.

हमें घटना से जुड़ी न्यूज रिपोर्ट्स भी मिलीं, जिनके मुताबिक म्यांमार में रोहिंग्या संकट को लेकर किए जाने वाले प्रोटेस्ट हिंसक हो गए थे और इन झड़पों में कम से कम 6 पुलिसकर्मी घायल हो गए थे. क्विंट पर भी इस घटना से जुड़ी रिपोर्ट थी.
ADVERTISEMENT

वायरल वीडियो में दिख रहे एक हिस्से को न्यूज एजेंसी ANI के एक वीडियो से कर सकते हैं. पूरा वीडियो यहां देखा जा सकता है.

<div class="paragraphs"><p>वायरल वीडियो और ANI पर उपलब्ध विजुअल के बीच समानता</p></div>

वायरल वीडियो और ANI पर उपलब्ध विजुअल के बीच समानता

(फोटो: ANI/फेसबुक/Altered by The Quint)

मतलब साफ है, अनंतनाग में पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प का वीडियो सोशल मीडिया पर इस झूठे दावे से शेयर किया जा रहा है कि ये वीडियो राजस्थान का है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT