ADVERTISEMENT

यूपी में हिंदू-मुस्लिम विवाद का बताया जा रहा ये वीडियो, छत्तीसगढ़ का है

ये वीडियो उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ का बताकर शेयर किया जा रहा है, जबकि वहां ऐसी कोई घटना हुई ही नहीं.

Published
यूपी में हिंदू-मुस्लिम विवाद का बताया जा रहा ये वीडियो, छत्तीसगढ़ का है
i

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक वीडियो में भीड़ 'जय श्री राम' के नारे लगाते हुए गाड़ियों को नुकसान पहुंचाती दिख रही है. वीडियो शेयर कर दावा किया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के प्रतापगढ़ में एक हिंदू संगठन ने मस्जिद के ऊपर से झंडा हटा दिया है.

दावे में आगे कहा गया है कि मुस्लिम समुदाय के कुछ लोगों ने जबरन दुर्गा पूजा (Durga Puja) पंडाल में घुसकर धार्मिक समारोह में बाधा डाली थी, इसलिए उसका बदला लेने के लिए ऐसा किया गया है.

ADVERTISEMENT

हालांकि, हमने पड़ताल में पाया कि ये वीडियो छत्तीसगढ़ के कवर्धा का है, जहां 3 अक्टूबर को कुछ लोगों ने भगवा झंड़ा उतार दिया था. इसके बाद, सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया. स्थानीय लोगों ने रैलियां निकाली, और मुस्लिमों की संपत्ति को नुकसान पहुंचाया जिससे हिंसा भड़क गई. इसके बाद, पूरे जिले में कर्फ्यू लगा दिया गया.

दावा

कार और बाइक को नुकसान पहुंचाती भीड़ का वीडियो इस दावे से शेयर किया जा रहा है, "प्रतापगढ़ जिले के लालगंज कस्बे में दुर्गा पूजा के पंडाल में घुस कर मुस्लिम समुदाय के लोगो ने पूजा बंद करवा दी और मां दुर्गा का पताका निकालकर फेंक दिया, उसके बाद हिंदू संगठन सक्रिय हो गए, एक एक मुस्लिम को उनके घरों से निकाल कर बुरी तरह पीटा, मस्जिदों के झंडे उखाड़ कर फेंक दिए गए|"

पोस्ट का आर्काइव देखने के लिए यहां क्लिक करें

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

फेसबुक पर किए गए ऐसे दावों के आर्काइव आप यहां और यहां देख सकते हैं. इसके अलावा, ट्विटर पर किए गए दावों के आर्काइव आपको यहां और यहां देखने को मिलेंगें.

पड़ताल में हमने क्या पाया

वीडियो को ध्यान से देखने पर हमें तोड़-फोड़ की गई गाड़ी की नंबर प्लेट दिखी. नंबर प्लेट छ्त्तीसगढ़ की थी.

नंबर प्लेट से पता चलता है कि गाड़ी छत्तीसगढ़ की है

(सोर्स: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

यहां से संकेत लेकर, हमने जरूरी कीवर्ड सर्च करके देखे. हमें 8 अक्टूबर को फेसबुक पर अपलोड किया गया यही वीडियो मिला, जिसके मुताबिक वीडियो कवर्धा हिंसा से जुड़ा है.

वीडियो के कैप्शन के मुताबिक मुस्लिम समुदाय के लोगों को निशाना बनाया गया

(फोटो: स्क्रीनशॉट/फेसबुक)

3 अक्टूबर को एक स्थानीय शख्श का कुछ लोगों के साथ धार्मिक निंदा को लेकर विवाद हुआ था.

घटना के दो दिन बाद, इलाके में सांप्रदायिक तनाव बढ़ गया. विश्व हिंदू परिषद (VHP) और बजरंग दल जैसे संगठनों के सदस्यों ने पुलिस के खिलाफ ''शांतिपूर्ण'' प्रोटेस्ट किया और उन पर विफलता का आरोप लगाया.

ADVERTISEMENT

हमें यूपी पुलिस के फैक्ट-चेकिंग ट्विटर अकाउंट का एक ट्वीट भी मिला, जिसमें कहा गया था कि वीडियो प्रतापगढ़ का नहीं है, बल्कि छत्तीसगढ़ के कवर्धा में हुए एक घटना का है. ये घटना 5 अक्टूबर 2021 को हुई थी.

इस ट्वीट के मुताबिक ये घटना छत्तीसगढ़ की है

(फोटो: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

प्रतापगढ़ पुलिस के ट्विटर अकाउंट से भी इस वीडियो के बार में ट्वीट कर बताया गया कि लालगंज थानाक्षेत्र में ऐसी कोई घटना नहीं हुई है. ट्वीट में ये भी लिखा गया कि पुलिस इस झूठे दावे को फैलाने वालों के खिलाफ कार्रवाई करेगी.

प्रतापगढ़ पुलिस ने ट्वीट कर पुष्टि की कि ऐसी कोई घटना लालगंज में नहीं हुई है

(फोटो: स्क्रीनशॉट/ट्विटर)

हमें Dainik Bhaskar में कवर्धा हिंसा से जुड़ी एक रिपोर्ट भी मिली, जिसमें वायरल वीडियो के विजुअल जैसे ही विजुअल थे. रिपोर्ट में एक टूटी हुई मोटरसाइकिल, एक लाल कार और बगल में पड़ी सफेद वैन देखी जा सकती हैं, जो वायरल वीडियो में भी दिख रही हैं.

रिपोर्ट में हिंसा के बाद के विजुअल देखे जा सकते हैं.

(फोटो: स्क्रीनशॉट/Dainik Bhaskar)

(नोट: वायरल वीडियो से इन गाड़ियों के स्क्रीनशॉट देखने के लिए दाएं स्वाइप करें.)

  • <div class="paragraphs"><p>वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट</p></div>
  • <div class="paragraphs"><p>वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट</p></div>
  • <div class="paragraphs"><p>वायरल वीडियो के स्क्रीनशॉट</p></div>

इसके अलावा, हमने एक स्थानीय रिपोर्टर से भी संपर्क किया, जिन्होंने बताया कि ये वीडियो कवर्धा का ही है.

मतलब साफ है, छत्तीसगढ़ के कवर्धा में हुई सांप्रदायिक हिंसा का वीडियो यूपी के प्रतापगढ़ में हुई सांप्रदायिक हिंसा का बता गलत दावे से शेयर किया जा रहा है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT
×
×