पाकिस्‍तान के PM इमरान खान ने कहा- चुनावी मौसम में हुई स्ट्राइक

इमरान ने लिखा, ‘इस भड़काने वाले काम का पाकिस्तान जरूर जवाब देगा’

Published26 Feb 2019, 12:37 PM IST
दुनिया
2 min read

भारतीय वायुसेना की पाकिस्‍तान में मंगलवार तड़के आतंकी ठिकानों पर एयरस्ट्राइक के बाद पूरे देश में एयरफोर्स की वाहवाही हो रही है. वहीं पाकिस्‍तान के पीएम इमरान खान ने फेसबुक पोस्ट लिखकर एयरफोर्स की स्ट्राइक को ‘चुनावी’ करार दिया है. इमरान ने अपने फेसबुक पोस्ट में लिखा है कि भारत ने क्षेत्रीय शांति और स्थिरता को ताक पर रखा है.

इमरान खान ने लिखा:

‘‘ये कार्रवाई चुनावी माहौल में घरेलू फायदे के लिए की गई है. क्षेत्रीय शांति और स्थिरता को ताक पर रखा गया है. जिस जगह पर दावा किया जा रहा है कि स्ट्राइक हुई है, वह जगह दुनिया के लिए खुली है. इसके लिए घरेलू और इंटरनेशनल मीडिया को साइट पर ले जाया जा रहा है.’’
इमरान खान, प्रधानमंत्री पाकिस्तान(फेसबुक पोस्ट)
पाकिस्‍तान के PM इमरान खान ने कहा- चुनावी मौसम में हुई स्ट्राइक

पुलवामा हमले के बाद कई बार बदल चुके हैं स्टैंड

भारत की कार्रवाई के बाद से ही पाकिस्‍तान के पीएम इमरान खान के बयान का इंतजार किया जा रहा था. 14 फरवरी को पुलवामा हमले के बाद से पाक पीएम अपने बयानों को बदलते नजर आए हैं. पहले उन्होंने कहा था कि अगर भारत की तरफ से हमला होता है, तो वो भी जवाब देंगे. फिर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी किरकिरी होती देख पाक पीएम शांति की बात करते भी नजर आए.

पाकिस्‍तान के पीएम ने मंगलवार को पीओके में हुए भारतीय वायुसेना की स्ट्राइक के बाद नेशनल सिक्योरिटी कमेटी की बैठक बुलाई. इस बैठक में पाकिस्तान के विदेश मंत्री, रक्षा मंत्री, वित्त मंत्री और कई विभागों के अध्यक्ष मौजूद थे.

पाकिस्तान ने कहा, भारत ने किया भड़काने का काम

पाकिस्तान में पीएम इमरान खान की अध्यक्षता में हुई बैठक के बाद ये कहा गया कि भारत के आतंकी ठिकानों पर हमले का और बड़ी संख्या में लोगों के मरने का दावा झूठा है. पाकिस्‍तान का कहना है कि ये कार्रवाई चुनावी मौसम में क्षेत्रीय शांति और स्थिरता को ताक पर रख कर की गई है, भारत की तरफ से इस भड़काने वाले काम का पाकिस्तान जरूर जवाब देगा, लेकिन अपने समय और अपनी चुनी हुई जगह पर.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!