ED मामले में चिदंबरम को SC से राहत,26 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी
ED मामले में चिदंबरम को SC से राहत,26 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी
(फोटो: PTI)

ED मामले में चिदंबरम को SC से राहत,26 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की गिरफ्तारी के बाद शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में उनकी याचिका पर सुनवाई हुई. सुप्रीम कोर्ट ने चिदंबरम को ईडी वाले मामले में थोड़ी राहत देते हुए 26 अगस्त तक ईडी की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी. अब सुप्रीम कोर्ट सोमवार 26 अगस्त को सीबीआई और ईडी दोनों मामलों पर सुनवाई करेगा. इससे पहले सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने गुरुवार 22 अगस्त को पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को INX मीडिया केस में 5 दिन की सीबीआई रिमांड पर भेज दिया था. चिदंबरम 26 अगस्त तक सीबीआई की कस्टडी में रहेंगे. कोर्ट ने कहा है कि चिदंबरम का परिवार और उनके वकील हर रोज उनसे 30 मिनट के लिए मिल सकते हैं.

सीबीआई ने बुधवार रात ही चिदंबरम को उनके घर से गिरफ्तार किया था. इसके बाद आज चिदंबरम को कोर्ट में पेश किया, जहां दोनों पक्षों की ओर से करीब डेढ़ घंटे तक बहस हुई. CBI की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता पेश हुए जबकि चिदंबरम की ओर से कपिल सिब्बल और अभिषेक मनु सिंघवी ने दलीलें रखीं.

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की गिरफ्तारी के बाद अब सियासी घमासान शुरू हो चुका है. कांग्रेस ने इसे लोकतंत्र की हत्या बताया है. कांग्रेस का कहना है कि सरकार अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए और बदले की भावना से ऐसा कर रही है.

ये भी पढ़ें- CBI हिरासत में पी चिदंबरम- 28 घंटे का हाइ वोल्टेज एक्शन

चिदंबरम को उनके घर से अपने मुख्यालय ले गई सीबीआई

Snapshotclose

  • पी. चिदंबरम को 5 दिन की सीबीआई कस्टडी में भेजा गया
  • 26 अगस्त तक सीबीआई की कस्टडी में रहेंगे चिदंबरम
  • हर रोज 30 मिनट के लिए मिलक सकेंगे परिवार के लोग और वकील
NEWEST FIRSTOLDEST FIRST
(3) NEW UPDATES

दिल्ली हाई कोर्ट ने 20 अगस्त को खारिज की चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका

दिल्ली हाई कोर्ट ने INX मीडिया मामले में 20 अगस्त को कांग्रेस नेता पी चिदंबरम को अग्रिम जमानत देने से इनकार कर दिया. कोर्ट ने यह याचिका खारिज करते हुए कहा कि INX मीडिया से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में चिदंबरम प्रथम दृष्टया ‘‘प्रमुख षड्यंत्रकारी" लगते हैं और प्रभावी जांच के लिए उनसे हिरासत में पूछताछ करने की जरूरत है.

इसके साथ ही कोर्ट ने कहा कि INX मीडिया 'घोटाला' मनी लॉन्ड्रिंग का बेहतरीन उदाहरण है. कोर्ट ने कहा कि अपराध की गंभीरता और अदालत से मिली राहत के दौरान पूछताछ में स्पष्ट जवाब नहीं दिया जाना दो आधार हैं जिनके कारण चिदंबरम को अग्रिम जमानत नहीं दी जा रही.

क्या है चिदंबरम के खिलाफ मामला?

CBI ने 15 मई 2017 को एक केस दर्ज कर आरोप लगाया था कि वित्त मंत्री के रूप में चिदंबरम के कार्यकाल के दौरान 2007 में 305 करोड़ रुपये की विदेशी धनराशि प्राप्त करने के लिए मीडिया समूह को दी गई विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) मंजूरी में अनियमितताएं हुई थीं. इसके बाद ED ने 2018 में इस संबंध में मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया.

CBI ने बीती रात चिदंबरम के घर के बाहर चिपकाया नोटिस

दिल्ली: CBI ने बीती रात पी चिदंबरम के घर के बाहर एक नोटिस चिपकाया, जिसमें चिदंबरम से कहा गया था कि वह एजेंसी के सामने 2 घंटे के अंदर पेश हों.

CBI के नोटिस के चिदंबरम के वकील ने दिया यह जवाब

पी चिदंबरम के वकील अर्शदीप सिंह खुराना ने CBI के नोटिस के जवाब दिया. इस जवाब में कहा गया कि जांच एजेंसी के नोटिस में उस कानूनी प्रावधान का जिक्र नहीं किया गया, जिसके तहत चिदंबरम को ‘2 घंटे के कम समय’ के अंदर पेश होने को कहा गया था. अर्शदीप ने CBI से अनुरोध किया है कि वो चिदंबरम की याचिका पर 21 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई से पहले चिदंबरम के खिलाफ कोई कठोर कार्रवाई ना करे.

हम चिदंबरम के साथ खड़े, सच के लिए लड़ेंगे: प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने पी चिदंबरम के लिए ट्वीट कर लिखा, ''राज्यसभा के काफी योग्य और सम्मानित सदस्य पी चिदंबरम ने दशकों हमारे देश की सेवा की है, जिसमें उनका वित्त मंत्री और गृह मंत्री के तौर पर भी कार्यकाल शामिल था. वह बिना हिचके सत्ता से सच बोलते हैं और इस सरकार की नाकामियों को उजागर करते हैं, लेकिन कायरों के लिए सच असहज होता है. इसलिए उनको शर्मनाक तरीके से निशाना बनाया जा रहा है. हम उनके साथ खड़े हैं, हम सच के लिए लड़ना जारी रखेंगे, भले ही नतीजे कुछ भी हों.''''

पुलिस स्टेट चला रही बीजेपी: सुरजेवाला

कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला ने पी चिदंबरम के मामले पर कहा, ''भारत मोदी सरकार के द्वेषपूर्ण बदले को देख रहा है, बीजेपी एक पुलिस स्टेट चला रही है. जज ने 7 महीने के लिए फैसला सुरक्षित रखा और रिटायरमेंट से 72 घंटे पहले इसे सुनाया. CBI/ED को छापेमारी के लिए भेज दिया जाता है जैसे एक सम्मानित पूर्व वित्त मंत्री का पीछा किया जा रहा हो.''

चिदंबरम के खिलाफ CBI की कार्रवाई पूरी तरह अनुचित: सलमान खुर्शीद

वरिष्ठ वकील और कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद से जब पूछा गया कि वह (चिदंबरम के खिलाफ) CBI की कार्रवाई को किस तरह देखते हैं तो उन्होंने कहा, ''पूरी तरह से अनुचित है.''

पी चिदंबरम के वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट में दायर की स्पेशल लीव पेटीशन

INX मीडिया केस: पी चिदंबरम के वकीलों ने सुप्रीम कोर्ट में स्पेशल लीव पेटीशन (SLP) दायर की. इस पेटीशन में दिल्ली हाई कोर्ट के 20 अगस्त के उस आदेश से अंतरिम राहत मांगी गई है, जिसमें चिदंबरम की अंतरिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया गया था.

सीजेआई रंजन गोगोई के पास गया चिदंबरम का मामला

जस्टिस एनवी रमन्ना की बेंच ने चिदंबरम की याचिका वाली फाइल CJI रंजन गोगोई के पास भेजी. अब CJI ही फौरन सुनवाई की मांग के साथ दायर इस याचिका पर अगला आदेश देंगे. चिदंबरम की तरफ से वरिष्ठ वकील कपिल सिब्बल, सलमान खुर्शीद और विवेक तन्खा कोर्टरूम में मौजूद हैं.

अभी साफ नहीं, CJI कब करेंगे चिदंबरम की याचिका पर फैसला

अभी यह साफ नहीं है कि CJI गोगोई, चिदंबरम की याचिका पर कब फैसला करेंगे. दरअसल CJI इस वक्त उस संविधान बेंच में हैं, जो अयोध्या मामले की सुनवाई कर रही है.

चिदंबरम के खिलाफ ED ने जारी किया लुकआउट नोटिस

ED ने कांग्रेस नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया.

सुप्रीम कोर्ट में चिदंबरम की याचिका के बाद CBI और ED ने दाखिल की कैविएट

INX मीडिया केस: सुप्रीम कोर्ट में पी चिदंबरम की याचिका के बाद अब CBI और ED ने इस मामले में कैविएट दाखिल की हैं. इसका मतलब यह है कि इन दोनों एजेंसियों ने मांग की है कि सुप्रीम कोर्ट बिना उनको सुने कोई आदेश ना दे.

मोदी सरकार चिदंबरम का चरित्र हनन करने में लगी: राहुल गांधी

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने चिदंबरम के मामले पर ट्वीट कर कहा, ''मोदी सरकार ED, CBI और एक रीढ़हीन मीडिया के धड़ों का इस्तेमाल चिदंबरम का चरित्र हनन करने में कर रही है. मैं सत्ता के इस शर्मनाक दुरुपयोग की कड़ी निंदा करता हूं.

'पी चिदंबरम की स्पेशल लीव पेटीशन में हैं कुछ कमियां'

न्यूज एजेंसी एएनआई ने बताया, ''सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की गई पी चिदंबरम की स्पेशल लीव पेटीशन में कुछ कमियां हैं, ऐसे में सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्री इसे कोर्ट में पेश करने के लिए क्लियर करने की स्थिति में नहीं है.''

दूर हुईं चिदंबरम की याचिका में कमियां: सुप्रीम कोर्ट रजिस्ट्रार

सुप्रीम कोर्ट में रजिस्ट्रार ने कहा कि चिदंबरम की याचिका में कमियां दूर हो गई हैं. इसके साथ ही उन्होंने बताया कि CBI की कैविएट के रजिस्ट्रशन सहित कुछ प्रक्रियाएं पूरी की जानी हैं, उसके बाद चिदंबरम की याचिका वाली फाइल को CJI के पास भेजा जाएगा. चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि इसका मतलब होगा कि मामला आज लिस्ट नहीं हो पाएगा. उनके जवाब में जस्टिस रमन्ना ने कहा कि वह कुछ नहीं कर सकते.

सिब्बल ने फिर दी दलील, लेकिन चिदंबरम को गिरफ्तारी से तुरंत राहत नहीं

कपिल सिब्बल ने चिदंबरम के लिए गिरफ्तारी से अंतरिम राहत की मांग करते हुए जस्टिस रमन्ना से कहा कि चिदंबरम ने कहा है कि वह कहीं नहीं जाएंगे. इस पर सोलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने अपनी आपत्ति दर्ज कराई, हालांकि जज पहले ही सिब्बल की मांग खारिज कर चुके थे.

चिदंबरम के वकील CJI की कोर्ट में मौजूद

पी चिदंबरम के वकील इस वक्त चीफ जस्टिस की कोर्ट में मौजूद हैं जहां फिलहाल अयोध्या मामले की सुनवाई चल रही है. चिंदबरम के वकील एक बार फिर इस मुद्दे को उठा सकते हैं.

चिदंबरम के बचाव में थरूर, कहा- 'आखिर में सच ही जीतेगा'

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने चिदंबरम के समर्थन में ट्वीट करते हुए लिखा- “आपके साहस और चरित्र को सलाम है, जो आप उत्पीड़न और चरित्र हनन के खिलाफ पूरे जज्बे के साथ खड़े हो. मुझे उम्मीद है कि आखिरकार सच की ही जीत होगी.”

चिदंबरम की गिरफ्तारी की तैयारी कर रही ED और CBI: सूत्र

द क्विंट को ईडी के सूत्रों से जानकारी मिली है कि ईडी और सीबीआई चिदंबरम की गिरफ्तारी की तैयारी कर रहे हैं.

सूत्रों के मुताबिक, “चिदंबरम ने मार्च 2018 के बाद ही ईडी के सामने पेश होना शुरू किया. तब से लेकर अभी तक वो सिर्फ 5-6 बार पेश हुए हैं और ज्यादातर बचने की कोशिश ही करते रहे हैं.”


बिना चिदंबरम की याचिका के ही CJI की बेंच उठी

चीफ जस्टिस की बेंच अयोध्या मामले की सुनवाई के बाद उठ गई है. चिदंबरम के वकील चीफ जस्टिस की कोर्ट में मौजूद थे और उम्मीद थी कि वो चिदंबरम की याचिका का फिर से जिक्र करेंगे, लेकिन बिना इसका जिक्र हुए ही चीफ जस्टिस की बेंच चली गई.

मामले की आज ही सुनवाई के लिए चिदंबरम के वकीलों की कोशिश जारी

PTI के मुताबिक, चिदंबरम के वकीलों के मुताबिक वो आज ही इस मामले को सुनवाई के लिए लिस्ट कराने की कोशिश कर रहे हैं. फिलहाल सभी वकील इस वक्त सुप्रीम कोर्ट के एक कमरे में चर्चा कर रहे हैं.

चिदंबरम को फौरी राहत नहीं, याचिका पर शुक्रवार को सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट में तुरंत सुनवाई की चिदंबरम के वकीलों की कोशिश आज कोई रंग नहीं लाई. सुप्रीम कोर्ट ने अंतरिम जमानत याचिका की सुनवाई को शुक्रवार 23 अगस्त के लिए लिस्ट किया है.

स्पेन में कार्ति ने खरीदा टेनिस क्लबः ईडी

न्यूज एजेंसी IANS के मुताबिक, प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने दावा किया है कि पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम ने स्पेन में एक टेनिस क्लब खरीदा था. वहीं ब्रिटेन में कॉटेज लिए थे.

CCTV फुटेज और मोबाइल लोकेशन के जरिए चिदंबरम की खोज

पी चिदंबरम की तलाशी में ईडी और सीबीआई उनके मोबाइल फोन की आखिरी लोकेशन और सीसीटीवी फुटेज की मदद ले रही है- IANS

CBI की ओर से चिदंबरम को नया समन नहीं

सूत्रों के मुताबिक, INX मामले में सीबीआई ने चिदंबरम को पिछले साल सिर्फ एक बार बुलाया था.

सीबीआई की ओर से अभी उन्हें समन जारी नहीं किया गया है. पिछला समन मंगलवार को जारी किया गया था जिसमें चिदंबरम को 2 घंटे में पेश होने के लिए कहा गया था.

चिदंबरम के मुद्दे पर 8:15 बजे कांग्रेस की प्रेस कॉन्फ्रेंस

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कपिल सिब्बल, सलमान खुर्शीद और अभिषेक मनु सिंघवी रात 8:15 बजे कांग्रेस मुख्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करेंगे.

चिदंबरम के खिलाफ CBI का लुकआउट नोटिसः सूत्र

सूत्रों के मुताबिक अब सीबीआई ने भी पूर्व वित्त मंत्री के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी कर दिया है. इससे पहले ईडी ने चिदंबरम के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया था.

प्रेस कांफ्रेस के लिए कांग्रेस दफ्तर पहुंचे पी चिदंबरम

एक तरफ CBI-ED चिदंबरम को मंगलवार से ढूंढ रही है, और वहीं आज पहली बार चिदंबरम कैमरा के सामने नजर आए हैं. चिदंबरम कांग्रेस मुख्यालय पहुंचे हैं प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए

मेरे या परिवार के खिलाफ कोई चार्जशीट नहींः चिदंबरम

प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले चिदंबरम-

“INX मीडिया केस में मैं या मेरे परिवार का कोई भी सदस्य आरोपी नहीं है. न ही मेरे या परिवार के किसी भी सदस्य के खिलाफ किसी भी कोर्ट में चार्जशीट दर्ज नहीं की गई है.”

मैं अपने वकीलों के साथ था, फिर भी मुझे फरार बतायाः चिदंबरम

  • हाईकोर्ट ने कल मेरी अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी
  • मेरे वकीलों ने मुझे सुप्रीम कोर्ट में अपील करने को कहा
  • वकीलों ने कोर्ट से मेरी सुनवाई करने का आग्रह किया
  • हम रात भर कागजात तैयार करने में जुटे रहे
  • मैं आज पूरे दिन सुप्रीम कोर्ट में वकीलों के साथ रहा
  • फिर भी मुझे फरार करार दे दिया गया, जबकि मैं कानून की मदद चाह रहा हूं

उम्मीद करता हूं शुक्रवार तक नाइंसाफी नहीं होगीः चिदंबरम

  • मेरी सुनवाई न आज हुई, न कल होगी, बल्कि शुक्रवार को होगी
  • मैं अदालत का सम्मान करता हूं, मैं कानून का सम्मान करता हूं
  • मैं सिर्फ उम्मीद कर सकता हूं कि जांच एजेंसियां भी कानून का सम्मान करेंगी
  • उम्मीद करता हूं कि शुक्रवार तक नाइंसाफी नहीं होगी

कांग्रेस दफ्तर पहुंची सीबीआई

24 घंटे से भी ज्यादा वक्त तक नजर नहीं आने वाले पी चिदंबरम जैसे ही कांग्रेस दफ्तर में अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस खत्म करके निकले, उसी वक्त CBI की टीम भी वहां पहुंच गई. देर शाम ही CBI ने चिदंबरम के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया था.

कांग्रेस दफ्तर से निकलकर अफने घर पहुंचे चिदंबरम

प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपनी सफाई देकर चिदंबरम कॉन्ग्रेस दफ्तर से निकल गए और जोरबाग स्थित अपने घर पहुंच गए हैं.

चिदंबरम के निकलने के बाद CBI भी निकली

कांग्रेस दफ्तर पहुंची CBI की टीम भी अब निकल गई है. इससे पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद पी चिदंबरम भी पार्टी ऑफिस से निकलकर अपने घर पहुंच गए थे.

दीवार फांदकर चिदंबरम के घर में घुसे सीबीआई अधिकारी

चिदंबरम के घर पहुंची सीबीआई टीम अब दीवार फांदकर उनके घर में घुसी है.

ED और दिल्ली पुलिस की टीम भी पहुंची चिदंबरम के घर

CBI की टीम के बाद अब ED की टीम भी चिदंबरम की गिरफ्तारी के लिए उनके घर पहुंच गई है. वहीं दोनों टीमों की मदद के लिए दिल्ली पुलिस की टीम भी चिदंबरम के घर के बाहर पहुंची हुई है.

कार्ति चिदंबरम ने की ताजा घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया

कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम के बेटे और सांसद कार्ति चिदंबरम ने ताजा घटनाक्रम पर प्रतिक्रिया दी है. कार्ति ने ट्विटर पर लिखा है, ‘ये एक तरह से राजनीतिक शिकार किया जा रहा है. मीडिया को खबरें लीक करना प्रवर्तन निदेशालय की पुरानी रणनीति है. मेरा आईएनएक्स या एफआईपीबी से कोई लेना-देना नहीं है. मेरी सभी संपत्तियां इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को विधिवत घोषित किए गए हैं.’

कुछ लोगों को खुश करने के लिए एजेंसियों द्वारा नाटक और तमाशा किया जा रहा हैः कार्ति

पी चिदंबरम को साथ ले गई CBI की टीम

करीब घंटेभर तक चले हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद सीबीआई टीम पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को अपने साथ ले गई है.

कार्ति चिदंबरम ने कहा- कोर्ट में अपना पक्ष साबित करेंगे

पी. चिदंबरम के बेटे और सांसद कार्ति चिदंबरम ने अपने पिता को हिरासत में लिए जाने पर कहा, ‘ईडी ने उन्हें कई बार तलब किया है और वह हर बार हाजिर हुए हैं. हम कोर्ट में जाएंगे और अपनी बात को साबित करेंगे.’

पी. चिदंबरम गिरफ्तार

PTI के मुताबिक पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को INX मीडिया केस में CBI ने गिरफ्तार कर लिया है.

कल होगी चिदंबरम की पेशी

देर रात हुई गिरफ्तारी के बाद अब गुरुवार 22 अगस्त को पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को सीबीआई कोर्ट में पेश किया जाएगा.

खुर्शीद बोले, CBI को करना चाहिए था इंतजार

कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की गिरफ्तारी पर कहा, यह जो कुछ भी हुआ वह काफी दुखी करने वाला है. कानून से बचने का तो यहां कोई सवाल ही नहीं था. मामला शुक्रवार को लिस्ट किया गया था, इसलिए उन्हें तब तक इंतजार करना चाहिए था और देखना चाहिए था कि सुप्रीम कोर्ट क्या चाहता है.

दिल्ली पहुंचे कार्ति चिदंबरम

पी चिदंबरम की गिरफ्तारी के बाद उनके बेटे कार्ति चिदंबरम दिल्ली पहुंच चुके हैं. वो गुरुवार सुबह चेन्नई से दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे. बुधवार रात सीबीआई ने पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को INX मीडिया केस में गिरफ्तार किया था.

कार्ति चिदंबरम करेंगे प्रोटेस्ट

पी चिदंबरम की गिरफ्तारी का विरोध करने अब उनके बेटे कार्ति चिदंबरम जंतर-मंतर पर धरना देंगे. उन्होंने दिल्ली पहुंचते ही ये बात कही. कार्ति ने कहा, मेरे पिता को निशाना नहीं बनाया जा रहा है बल्कि कांग्रेस पार्टी को निशाना बनाया जा रहा है. मैं जंतर-मंतर पर जाकर प्रोटेस्ट करूंगा.

चिदंबरम की गिरफ्तारी पर कांग्रेस की प्रेस कॉन्फ्रेंस-

कांग्रेस बोली, लोकतंत्र की दिनदहाड़े हत्या हुई

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की गिरफ्तारी पर कांग्रेस की तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी बदले की राजनीति कर रही है. लोकतंत्र की दिनदहाड़े हत्या की जा रही है. 2007 के मामले पर 2019 में गिरफ्तारी हुई है.

चिदंबरम की गिरफ्तारी पर कांग्रेस-

  • पी चिदंबरम के खिलाफ किसी भी केस में कोई भी सबूत नहीं है
  • मौजूदा बीजेपी सरकार ईडी और सीबीआई को अब व्यक्तिगत बदला लेने वाली एजेंसी बना रही है
  • मोदी सरकार व्यक्तिगत तौर पर बदला लेने के लिए किसी भी हद तक गिर सकती है
  • देश में भयंकर मंदी का हल निकालने में मोदी सरकार फेल रही है, लाखों नौकरियां जा रही हैं
  • देश का ध्यान बांटने के लिए मोदी सरकार ने पिछले दो दिन में नया ड्रामा रचा

बीजेपी 6 साल में नहीं जुटा पाई सबूत: कांग्रेस

  • INX मीडिया केस में पी चिदंबरम और कार्ति चिदंबरम पर कोई आपराधिक केस नहीं
  • ईडी और सीबीआई आज तक सबूत पेश नहीं कर पाए हैं
  • 6 साल से मोदी सरकार ने पूरा जोर लगा दिया, लेकिन इस केस में सबूत नहीं मिल सके
  • जिस कंपनी पर विदेशी निवेश के आरोप हैं, उसके किसी अधिकारी की गिरफ्तारी नहीं हुई
  • पूरे देश में मीडिया ट्रायल का ड्रामा बनाने के लिए पूर्व वित्त मंत्री और गृह मंत्री को गिरफ्तार कर लिया

आवाज उठाने पर कुचल दिया जाएगा: कांग्रेस

  • चिदंबरम जी का अपराध ये है कि वो लोगों को बताते हैं कि अर्थव्यवस्था गलत हाथों में है
  • अब किसानों के साथ-साथ उद्योगपति भी आत्महत्या करने लगे हैं
  • जो आवाज उठाएगा उसे निर्ममता से कुचल दिया जाएगा

विपक्षी नेता और मीडिया के कुछ लोग बन रहे निशाना: कांग्रेस

कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, देश में विपक्षी नेताओं की लंबी लिस्ट है, जिन पर कार्रवाई हो रही है. अखिलेश यादव, मायावती, वीरभद्र सिंह, डीके शिवकुमार, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, राज ठाकरे, कमलनाथ, अहमद पटेल, ममता बनर्जी, शशि थरूर जैसे नेताओं पर केस दर्ज किए गए हैं. मीडिया पर भी लगातार हमले हो रहे हैं. प्रणय रॉय उनकी पत्नी, संजीव भट्ट, राघव बहल जैसे लोगों की लंबी लिस्ट हैं, जिन पर मुकदमे दर्ज किए गए हैं. वहीं बीजेपी में शामिल होने वाले नेताओं के सारे केस वापस ले लिए जाते हैं और क्लीन चिट मिल जाती है.

जंतर-मंतर पर शुरू हुआ कांग्रेस का प्रोटेस्ट

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम की गिरफ्तारी को लेकर कांग्रेस नेता अब जंतर-मंतर पर धरना दे रहे हैं. अब यहां पी चिदंबरम के बेटे कार्ति चिदंबरम भी पहुंच चुके हैं. उन्होंने दिल्ली आते ही कहा था कि वो जंतर-मंतर पर प्रोटेस्ट करने वाले हैं. कांग्रेस यहां आर्टिकल 370 हटाए जाने के विरोध में भी प्रोटेस्ट कर रही है.

सीबीआई कोर्ट पहुंच रहे चिदंबरम

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम को सीबीआई अधिकारी कोर्ट ले जा रहे हैं. जिसके बाद कुछ ही देर में उनके मामले पर सुनवाई होगी. उन्हें सीबीआई के स्पेशल कोर्ट में पेश किया जाएगा. चिदंबरम के वकील पहले ही कोर्ट पहुंच चुके हैं.

चिदंबरम की पेशी

INX मीडिया केस में बुधवार 21 अगस्त की रात हुई गिरफ्तारी के बाद अब चिदंबरम को CBI कोर्ट में पेश किया गया है.

CBI ने 5 दिन की रिमांड मांगी

CBI की ओर से कोर्ट में सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता बहस कर रहे हैं. तुषार मेहनता ने मांग की है कि सीबीाई को 5 दिन की रिमांड दी जाए.

चिदंबरम के खिलाफ था गैर जमानती वॉरंटः CBI

तुषार मेहता ने कोर्ट में कहा है कि चिदंबरम के खिलाफ CBI की अर्जी पर गैर जमानती वॉरंट जारी किया गया था और इसके कारण ही उन्हें गिरफ्तार किया गया है.

ये मनी लॉन्डरिंग का 'क्लासिक केस' है: CBI

CBI के लिए बहस कर रहे सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा- “ये मनी लॉन्डरिंग का क्लासिक केस है. अभी चार्जशीट से पहले की स्टेज में हैं. सारे दस्तावेज उनके पास हैं लेकिन वो सहयोग नहीं कर रहे हैं.”

सिब्बल ने शुरू की बहस, कहा- 'इस मामले में सभी आरोपियों को मिली जमानत'

चिदंबरम की ओर से कपिल सिब्बल ने शुरू की बहस. सिब्बल ने कहा- “इस मामले में आरोपी कार्ति चिदंबरम हैं, जिन्हें दिल्ली हाई कोर्ट ने मार्च 2018 में नियमित जमानत पर रिहा किया था. इस मामले में अन्य आरोपियों को भी जमानत मिली है, जबकि पीटर और इंद्राणी मुखर्जी भी जमानत पर हैं.”

चिदंबरम कभी किसी पूछताछ से नहीं भागे- सिब्बल

CBI कोर्ट में कपिल सिब्बल- “जांच लगभग पूरी हो चुकी है. FIPB का अप्रूवल 6 सचिवों की ओर से मिला था लेकिन उनमें से कोई भी गिरफ्तार नहीं हुआ. चिदंबरम कभी भी किसी पूछताछ से भागे नहीं”

CBI ने जो सवाल पूछे उनका चिदंबरम से लेना-देना नहींः सिब्बल

CBI कोर्ट में कपिल सिब्बल- “कल रात CBI ने कहा कि वो चिदंबरम से पूछताछ करना चाहते हैं, लेकिन उन्होंने आज दिन में 12 बजे तक भी पूछताछ शुरू नहीं की और सिर्फ 12 सवाल पूछे. उन्हें तो अब तक पता होना चाहिए था क्या सवाल पूछने हैं. उन सवालों का चिदंबरम से कोई लेना-देना नहीं था.”

हम पीड़ित हैंः सिब्बल

CBI कोर्ट में कपिल सिब्बल- “ये एक ऐसा केस है जिसमें सबूतों से मतलब नहीं है, बल्कि कुछ और मामला है. अगर कोई जज अपना फैसला देने में 7 महीने लेता है, तो क्या इसे ये कहा जाए कि चिदंबरम को कानूनी सुरक्षा मिली? हम पीड़ित हैं.”

इंद्राणी मुखर्जी के सबूतों पर आधारित CBI का केसः सिंघवी

चिदंबरम की ओर से अब वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी बहस कर रहे हैं. सिंघवी ने कोर्ट से कहा- “CBI का पूरा मामला सिर्फ इंद्राणी मुखर्जी के कुछ सबूतों और एक केस डायरी पर आधारित है.”

CBI ने एक बार बुलाया और चिदंबरम वहां गए, तो असहयोग कहां- सिंघवी

कोर्ट में अभिषेक मनु सिंघवी- “सहयोग नहीं करने का मतलब होता है कि अगर आप 5 बार मुझे बुलाओ लेकिन मैं नहीं आपके पास नहीं आऊं. लेकिन मैं वो जवाब नहीं दे रहा जो आप सुनना चाहते हैं, तो इसे असहयोग नहीं कहा जा सकता. CBI ने चिदंबरम को एक बार बुलाया और वो वहां गए. इसमें असहयोग कहां है.”

अचानक गिरफ्तारी को क्यों बेताब है सीबीआईः सिंघवी

कोर्ट में अभिषेक मनु सिंघवी की दलील-

  • सीबीआई इतनी परेशान क्यों हैं. जून 2018 में CBI ने चिदंबरम से पूछताछ की थी. पिछले 11 महीने में सीबीआई ने फोन तक नहीं किया. अचानक गिरफ्तारी को क्यों बेताब है सीबीआई.
  • अप्रूवर बनी महिला के बयान की आड़ में गिरफ्तारी. अप्रूवर का बयान स्टेटस होता है, सबूत नहीं.
  • इस केस में सीबीआई का तरीका ही गलत, पिछली बार पूछताछ में चिदंबरम ने सहयोग किया
  • सीबीआई ने रिमांड मागी लेकिन आरोप क्या हैं बताया नहीं, चिदंबरम वो जवाब नहीं देंगे जो सीबीआई चाहती है

कोर्ट में बोलना चाहते थे चिदंबरम, CBI ने किया विरोध

चिदंबरम ने कोर्ट में कहा कि वो भी अपना पक्ष रखना चाहते हैं, तो सॉलिसिटर जनरल ने तुषार मेहता ने आपत्ति जताई और कहा कि दो वरिष्ठ वकील उनकी तरफ से बहस कर रहे हैं. इस पर सिंघवी ने कहा कि दिल्ली हाई कोर्ट का एक फैसले है जो आरोपी को अपना पक्ष रखने का मौका देता है.

आरोपी से पूछताछ करना देश के प्रति हमारी ड्यूटीः CBI

CBI की ओर से तुषार मेहता- “पूछताछ करना सीबीआई की ड्यूटी है. CrPC के तहत देश के प्रति ये हमारा कर्तव्य है. हम सिर्फ कोर्ट से इजाजत चाहते हैं ताकि हम आरोपी से पूछताछ कर सकें.”

कोर्ट में बोले चिदंबरम- मुझसे जो सवाल पूछे, उनके जवाब दिए

कोर्ट में मिला चिदंबरम को बोलने का मौका. अपने पक्ष में बोले चिदंबरम- “सवाल और उनके जवाब देखे जाएं. ऐसा कोई भी सवाल नहीं है जिसका मैंने जवाब नहीं दिया है. आप इनको पढ़ सकते हैं. उन्होंने मुझसे पूछा- क्या मेरा विदेश में बैंक अकाउंट है? मैंने कहा नहीं है. उन्होंने पूछा कि क्या मेरे बेटे का विदेशी अकाउंट है. मैंने कहा हां है.”

कोर्ट में दलीलें खत्म, फैसला सुरक्षित

CBI कोर्ट में दोनों पक्षों की दलीलें खत्म हो गई हैं. कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है. CBI की ओर से सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने बहस की, जबकि चिदंबरम की ओर से कपिल सिब्बल और अभिषेक मनु सिंघवी ने पक्ष रखा.

आधे घंटे में सुनाया जाएगा फैसला

स्पेशल जज अजय कुमार कुहर ने करीब डेढ़ घंटे तक दोनों पक्षों की दलीलें सुनी. जज ने कहा कि वो आधे घंटे में अपना फैसला सुनाएंगे.

दलीलें पूरी होने के बाद कोर्ट से बाहर आए सिब्बल और सिंघवी

विदेशी कंपनियों में पैसों के लेन-देन की भी जांच कर रही CBI: सूत्र

सूत्रों के मुताबिक, विदेशों में भी कई कंपनियों में हुए पैसों के लेन-देन की जांच CBI कर रही है और इसके लिए उन देशों में लेटर रोगेटरी भेजे गए हैं.

CBI को मिली चिदंबरम की हिरासत

पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम को 5 दिन की CBI रिमांड पर भेजा गया है. चिदंबरम 26 अगस्त तक CBI रिमांड पर रहेंगे.

रोज 30 मिनट तक मिल सकता है परिवारः कोर्ट

कोर्ट ने इसके साथ ही आदेश दिया है कि चिदंबरम का परिवार और उनके वकील हर रोज 30 मिनट तक उनसे मिल सकते हैं.

चिदंबरम को कोर्ट से ले जाया गया

CBI की टीम चिदंबरम को कोर्ट से बाहर निकाल कर अपने साथ लेकर निकल गई है.

हर 48 घंटे में मेडिकल जांच

कोर्ट ने सीबीआई को आदेश दिया है कि हर 48 घंटे में चिदंबरम की मेडिकल जांच भी की जाए.

चिदंबरम को कस्टडी में भेजना सहीः कोर्ट

स्पेशल कोर्ट के जज ने कहा- “सभी तथ्यों और परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए मेरा मानना है कि 5 दिन की कस्टडी देना सही है.”

चिदंबरम की याचिका पर 23 अगस्त को सुनवाई

जस्टिस आर. भानुमति और जस्टिस एएस बोपन्ना की बेंच 23 अगस्त को चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका के मुद्दे पर सुनवाई करेगी. दिल्ली हाई कोर्ट ने चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका खारिज कर दी थी, जिसके खिलाफ चिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी.

चिदंबरम की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू

पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू हो चुकी है. उनकी गिरफ्तारी के बाद सुप्रीम कोर्ट में ये सुनवाई हो रही है. ये सुनवाई ईडी मामले पर चल रही है. बता दें कि सीबीआई कोर्ट ने उन्हें 26 अगस्त तक रिमांड पर भेजा है.

CBI कस्टडी मामले पर सोमवार को होगी सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट पी चिदंबरम की अग्रिम जमानत याचिका खारिज होने और सीबीआई की गिरफ्तारी वाले मामले पर सोमवार को सुनवाई करेगा. फिलहाल सुप्रीम कोर्ट में चिदंबरम के ईडी वाले मामले को लेकर सुनवाई चल रही है. बता दें कि INX मीडिया केस में पहले सीबीआई और फिर ईडी ने भी चिदंबरम पर केस दर्ज किया था.

सिब्बल बोले, वक्त पर याचिका दायर करने पर भी नहीं हुई सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट में पी चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने कहा, चिदंबरम जी का मौलिक अधिकार है कि वो न्याय के लिए कोर्ट में अपील करें, लेकिन वक्त पर अपील करने के बाद भी दिल्ली हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई नहीं हुई.

26 अगस्त तक नहीं होगी गिरफ्तारी: SC

सुप्रीम कोर्ट ने पी चिदंबरम के खिलाफ ईडी मामले पर सुनवाई करते हुए उन्हें राहत दी है. सुप्रीम कोर्ट ने 26 अगस्त तक उनकी ईडी की गिरफ्तारी पर रोक लगा दी है. बताया जा रहा था कि सीबीआई के बाद ईडी भी उन्हें गिरफ्तार कर सकती है. ईडी ने भी आईएनएक्स मीडिया केस में उनके खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का मामला दर्ज किया है.

दोनों मामलों में 26 अगस्त को सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट अब पी चिदंबरम के दोनों मामलों (सीबीआई और ईडी) पर सोमवार 26 अगस्त को सुनवाई करेगा. बता दें कि पी चिदंबरम को 26 अगस्त तक सीबीआई कस्टडी में भेजा गया है.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our भारत section for more stories.

    Loading...