ADVERTISEMENT

यूपी: मीट कारोबारी की मौत, पत्नी का पुलिस पर आरोप, जांच जारी

पुलिस ने अरोपों से साफ इनकार किया है

यूपी: मीट कारोबारी की मौत, पत्नी का पुलिस पर आरोप, जांच जारी

26 साल की शहाना लगातार रोती हैं. उनके पति आकिल कुरैशी यूपी के बुलंदशहर में कुछ गौहत्या मामले में आरोपी हैं. 23 और 24 मई की दरम्यानी रात को घर पर पुलिस से सामना होने के बाद आकिल की मौत हो गई.रोती

घटना रात के करीब 1 बजे हुए. पुलिस का दावा है कि कुरैशी की मौत मौके से भागते समय हुई. जबकि चश्मदीद गवाह पत्नी और बच्चे कहते हैं कि उन्होंने पुलिस को आकिल को पीटते और धक्का देते देखा.

पत्नी बार-बार पूछती है, "मैं छत पर थी, डर से कांप रही थी. मेरे सामने उन्होंने आकिल को लात मारी और छत से धक्का दे दिया. उन्होंने मुझे गाली थी और कहा कि मुझे भी फेंक देंगे. उसके बाद वो चले गए. मेरे बच्चे बहुत छोटे हैं, मैं अब क्या करूं, क्या आप मुझे बता सकते हैं कि मैं क्या करूं?"

यूपी: मीट कारोबारी की मौत, पत्नी का पुलिस पर आरोप, जांच जारी
(फोटो: Accessed by Quint)
ADVERTISEMENT
शहाना घटना को याद करती हैं, “तीन पुलिसवाले आए थे, वो मेरे पति से पैसे मांगने लगे. वो मीट बेचते हैं, इसलिए वो पुलिसवाले हर एक हफ्ते, 15 दिन या महीने में पैसा लेने आ जाते हैं. मेरे पति डरे होते थे और पैसे देते थे और मुझे बताते भी नहीं थे ठीक से. जब मैं उनसे पूछती थी कि क्यों पैसे देते हैं तो साफ जवाब नहीं देते थे.” 

वो कहती हैं कि लॉकडाउन की वजह से खाने के लिए पर्याप्त पैसे नहीं थे और मीट की दुकान भी बंद थी.

“तो जब इस बार उन्होंने 5000 रुपये मांगे तो मेरे पति ने कहा वो अगली सुबह दे देंगे. वो गुस्सा हो गए और उनका कालर पकड़ लिया और कहा कि पैसे अभी चाहिए. आकिल ने फिर वही बात दोहराई. उन्होंने आकिल को मारा, लात मारी और छत से नीचे फेंक दिया. मैंने देखा.” 
शहाना

यही आरोप आकिल की बेटियां भी दोहराती हैं, जो उस समय छत पर ही मौजूद थीं.

यूपी: मीट कारोबारी की मौत, पत्नी का पुलिस पर आरोप, जांच जारी
(फोटो: Accessed by Quint)

परिवार 24 से 27 मई के बीच आकिल को तीन अस्पताल लेकर गया था. 27 को दिल्ली के एक अस्पताल में उनकी मौत हो गई.

आकिल के कजिन भाई ताहिर कहते हैं कि वो पुलिस स्टेशन में शिकायत करने गए थे लेकिन कोई सुनवाई न होने पर वो 29 मई को एसपी क्राइम से मिले. अधिकारी ने कहा कि जांच की जाएगी.

ताहिर ने बताया कि SDM ने भी कहा है कि वो मामले को देखेंगे.

ADVERTISEMENT

पुलिस का अरोपों से इनकार

जब एसपी (ग्रामीण) से पूछा गया कि क्या तीन पुलिसवालों ने आकिल से पैसे मांगे और फिर छत से धक्का दे दिया तो उन्होंने कहा, "व्यक्ति अपराधी था और पुलिस उससे मिलने गई थी. पहले परिवार ने कहा वो घर पर नहीं है और दरवाजा नहीं खोला, जिसके बाद वो छत पर भागा और गिरकर चोटिल हो गया."

एसपी ने कहा, "कोई वहां नहीं गया और न ही पुलिस ने उसे पीटा. वो पहले भी ऐसे ही कूद चुका है. इस बार वो चोटिल हो गया."

जब उनसे जांच के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, "जांच चल रही है, रिपोर्ट एक हफ्ते में आ जानी चाहिए."

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT