ADVERTISEMENT

UP महिला आयोग की सदस्य बोलीं-लड़कियों को न दें मोबाइल, फिर दी सफाई

UP महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी के इस बयान की सोशल मीडिया पर काफी आलोचना हो रही है.

Updated
भारत
3 min read
यूपी महिला आयोग की सदस्य का विवादित बयान
i

उत्तर प्रदेश महिला आयोग की सदस्य मीना कुमारी ने लड़कियों के मोबइल फोन का इस्तेमाल करने को लेकर अपने बयान पर सफाई दी है. मीना कुमारी ने कहा कि उनके बयान का गलत मतलब निकाला जा रहा है. मीना कुमारी ने महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराध बढ़ने के पीछे मोबाइल फोन को जिम्मेदार बताया था. उन्होंने घरवालों से अपील करते हुए कहा कि लड़कियों को मोबाइल फोन न दें और अगर दें तो उनपर निगरानी रखें. महिला आयोग की सदस्य के इस बयान के पर हंगामा मच गया है.

“लड़कियां लड़कों से बात करती हैं और फिर उनके साथ भाग जाती हैं. मैं अपील करती हूं कि घरवाले बेटियों को मोबाइल न दें. और दें तो उसपर पूरी निगाह रखें. और सबसे पहले मैं मांओं को कहती हूं कि अपनी बेटियों का ध्यान रखें. ये सब मां की लापरवाही की वजह से बेटियों का ये हाल है.”
मीना कुमारी, यूपी महिला आयोग की सदस्य 

बयान पर हंगामा हुआ तो मीना कुमारी ने कहा कि उनके बयान का गलत मतलब निकाला जा रहा है. उन्होंने कहा, “मैंने असल में ये कहा था कि माता-पिता को ये चेक करना चाहिए कि उनके बच्चे पढ़ाई या दूसरे कामों के लिए मोबाइल फोन का उपयोग तो नहीं कर रहे हैं. मैंने कभी नहीं कहा कि अगर लड़कियां फोन का इस्तेमाल करती हैं तो वे लड़कों के साथ भाग जाती हैं.”

ADVERTISEMENT

ट्विटर पर आलोचना

मीना कुमारी के इस बयान की सोशल मीडिया पर काफी आलोचना हो रही है. एक्टिविस्ट डॉ नूतन ठाकुर ने उत्तर प्रदेश महिला आयोग सदस्या मीना कुमारी के बयान को अत्यंत निंदनीय, अनुचित और आपत्तिजनक बताया है. उन्होंने कहा कि इस सोच के साथ कोई भी व्यक्ति महिलाओं के साथ न्याय नहीं कर सकता है. उन्होंने सीएम योगी आदित्यनाथ से मीना कुमारी को तत्काल उनके पद से हटाए जाने की मांग की है.

जर्नलिस्ट रोहिणी सिंह ने लिखा कि क्यों न लड़कों से भी उनके पैसे और बाइक छीन लिए जाएं, ताकि वो किसी को 'भगा' ही न सकें.

UP महिला आयोग की सदस्य बोलीं-लड़कियों को न दें मोबाइल, फिर दी सफाई

कई सोशल मीडिया यूजर्स ने मीना कुमारी के बयान की आलोचना की और कहा कि एक बार फिर अपराधों के लिए महिलाओं को ही जिम्मेदार ठहराया जा रहा है.

UP महिला आयोग की सदस्य बोलीं-लड़कियों को न दें मोबाइल, फिर दी सफाई
UP महिला आयोग की सदस्य बोलीं-लड़कियों को न दें मोबाइल, फिर दी सफाई
UP महिला आयोग की सदस्य बोलीं-लड़कियों को न दें मोबाइल, फिर दी सफाई
UP महिला आयोग की सदस्य बोलीं-लड़कियों को न दें मोबाइल, फिर दी सफाई
UP महिला आयोग की सदस्य बोलीं-लड़कियों को न दें मोबाइल, फिर दी सफाई
UP महिला आयोग की सदस्य बोलीं-लड़कियों को न दें मोबाइल, फिर दी सफाई

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

ADVERTISEMENT
Published: 
ADVERTISEMENT
क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!
ADVERTISEMENT