संविधान दिवस: संसद की संयुक्त बैठक का बहिष्कार कर सकता है विपक्ष

विरोध प्रदर्शन में शिवसेना भी हो सकती है शामिल

Published25 Nov 2019, 05:04 PM IST
पॉलिटिक्स
2 min read

कांग्रेस की अगुवाई में कुछ विपक्षी दल मंगलवार को संविधान दिवस पर बुलाई गई संसद की संयुक्त बैठक का बहिष्कार कर सकते हैं. इस दौरान विपक्षी दल महाराष्ट्र के राजनीतिक घटनाक्रम के खिलाफ विरोध प्रदर्शन भी कर सकते हैं.

सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP), तृणमूल कांग्रेस, आरजेडी, डीएमके समेत वामपंथी दल महाराष्ट्र के राजनीतिक घटनाक्रम के मद्देनजर दोनों सदनों की संयुक्त बैठक में शामिल नहीं होने के बारे में विचार कर रहे हैं.

विरोध प्रदर्शन में शिवसेना भी हो सकती है शामिल

विपक्षी दल भी मंगलवार सुबह एक संयुक्त बैठक करेंगे और 'संविधान दिवस' समारोह के बहिष्कार का अंतिम आह्वान करेंगे. उन्होंने कहा कि इसका उद्देश्य महाराष्ट्र के विकास में एकजुट विपक्ष को पेश करना है.

बीजेपी की पूर्व सहयोगी शिवसेना भी इस विरोध प्रदर्शन में शामिल हो सकती है. सोमवार को शिवसेना नेता अनिल देसाई, अरविंद सावंत और कुछ अन्य लोगों ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की और कांग्रेस के विरोध प्रदर्शन का समर्थन किया.

एक सूत्र ने बताया कि विपक्षी दलों की योजना है कि इस बैठक का बहिष्कार कर डॉक्टर भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा के सामने प्रदर्शन किया जाए.

सेंट्रल हॉल में बुलाई गई दोनों सदनों की संयुक्त बैठक

सरकार ने संविधान सभा द्वारा संविधान का अनुमोदन किए जाने की 70वीं वर्षगांठ के मौके पर सेंट्रल हॉल में दोनों सदनों की संयुक्त बैठक बुलाई है.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उप राष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस मौके पर सांसदों को संबोधित करेंगे.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!