गुजरात चुनाव में PM मोदी ने उठाया राम मंदिर और तीन तलाक का मुद्दा
गुजरात के धांधुका में एक चुनावी रैली में पीएम मोदी.
गुजरात के धांधुका में एक चुनावी रैली में पीएम मोदी.फोटो: @narendramodi

गुजरात चुनाव में PM मोदी ने उठाया राम मंदिर और तीन तलाक का मुद्दा

गुजरात विधानसभा चुनाव में भी राम मंदिर के मुद्दे ने एंट्री ले ली है. चुनाव में बीजेपी को जीत दिलाने के लिए पीएम मोदी खुद मैदान में मौजूद हैं. लगातार रैलियां कर रहे हैं. पीएम मोदी ने बुधवार को गुजरात के धांधुका में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राम मंदिर, तीन तलाक, भीम राव अंबेडकर से लेकर सरदार पटेल के मुद्दे के बहाने कांग्रेस पार्टी को घेरने की कोशिश की.

पीएम मोदी ने सुप्रीम कोर्ट में चल रहे राम मंदिर-बाबरी मस्जिद मसले की सुनवाई में सुन्नी वक्फ बोर्ड की ओर से वकील और कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल के बहाने राम मंदिर को लेकर कांग्रेस पर तीखा हमला बोला है.

गुजरात के धांधुका में एक चुनावी रैली में पीएम मोदी.
गुजरात के धांधुका में एक चुनावी रैली में पीएम मोदी.
फोटो: @narendramodi

पीएम मोदी ने कहा,

इस बात पर मुझे कोई आपत्ति नहीं है कि कपिल सिब्बल मुस्लिम समुदाय की तरफ से लड़ रहे हैं, यह उनका काम है. लेकिन वो ये कैसे कह सकते हैं कि अगले चुनाव से पहले इसका फैसला नहीं आना चाहिए. लोकसभा चुनाव से राम जन्म भूमि का मामला कैसे जोड़कर देखा जा सकता है? क्या कांग्रेस की ओर से राम मंदिर मुद्दे को चुनाव तक टालने की कोशिश की जा रही है? पीएम मोदी ने कहा कि आखिर 2019 में चुनाव कांग्रेस लड़ेगी या फिर सुन्नी वक्फ बोर्ड चुनाव लड़ेगा.

तीन तलाक चुनाव का मुद्दा नहीं, महिलाओं के अधिकार का मामला

गुजरात विधानसभा चुनाव प्रचार में एक बार फिर बीजेपी तीन तलाक का मुद्दा उठाना चाहती है. इसी को देखते हुए पीएम मोदी ने कहा, "जब सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में तीन तलाक पर हलफनामा दिया था तो अखबारों में छपा कि मोदी यूपी चुनाव की वजह से इस मुद्दे पर चुप हैं, लोगों ने मुझसे कहा कि इस मुद्दे पर कुछ नहीं बोलना, वरना चुनाव हार जाएंगे."

पीएम मोदी यहीं नहीं रुके, उन्होंने कहा,

मेरे लिए एक बात बिलकुल साफ है कि मैं तीन तलाक के मामले में चुप नहीं रहने वाला नहीं हूं. हर कुछ चुनाव नहीं होता है. ट्रिपल तलाक का मुद्दा महिलाओं के अधिकारों से जुड़ा है. चुनाव बाद में लेकिन उससे पहले मानवता आती है.

अंबेडकर और सरदार पटेल को कांग्रेस ने दिया धोखा

बता दें कि आज भीम राव अंबेडकर की पुण्यतिथि है. तो ऐसे में पीएम मोदी ने भीम राव अंबेडकर के बहाने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि एक परिवार ने बाबा साहेब और सरदार पटेल के साथ बहुत अन्याय किया है.

उन्होंने कहा,

अगर कांग्रेस में पूरी तरह पंडित नेहरू की ही चलती तो बाबा साहेब संविधान समिति में शामिल तक नहीं हो पाते, यहां तक कि कांग्रेस ने कभी भी बाबा साहेब का भारत रत्न देने की बात तक सोची नहीं. इन लोगों ने सरदार पटेल और अंबेडकर दोनों के साथ धोखा किया है.

बता दें कि राज्य की 182 सीटों वाली विधानसभा के लिए पहले चरण के चुनाव के तहत 9 दिसंबर को मतदान होना है. दूसरे चरण का मतदान 14 दिसंबर को होगा, और मतगणना 18 दिसंबर को होगी. गुजरात में बीते 22 वर्षों से बीजेपी की सरकार है.

(क्विंट हिंदी के वॉट्सऐप चैनल से जुड़ने के लिए यहां क्लिक कीजिए.)