महाराष्ट्र: खुदकुशी केस में आरोप झेल रहे मंत्री पर अब ‘नए’ आरोप

बीजेपी की तरफ से कुछ नेता महाराष्ट्र सरकार में मंत्री संजय राठौड़ के नार्को टेस्ट की मांग कर रहे हैं.

Published
महाराष्ट्र: खुदकुशी केस में आरोप झेल रहे मंत्री पर अब ‘नए’ आरोप

टिकटॉक स्टार के सुसाइड केस में नाम आने के करीब 15 दिन बाद महाराष्ट्र सरकार के मंत्री संजय राठौड़ सामने आए. संजय राठौड़ वाशिम जिले के पोहरादेवी मंदिर दर्शन करने पहुंचे थे, पोहरादेवी मंदिर बंजारा समाज की कुल देवी है और संजय राठौड़ भी बंजारा समाज से ही आते है. लेकिन उनके समर्थकों ने जिस तरीके से कोरोना नियमों की धज्डियां उड़ाई हैं, उसके बाद से बीजेपी की तरफ से कार्रवाई की मांग होने लगी है.

एक तरफ महाराष्ट्र में बढ़ते केसों को देखते हुए ठाकरे सरकार की तरफ से कोरोना से जुड़े नियम और सख्ती से लागू करने के संकेत मिल रहे हैं. सीएम लगातार मास्क लगाने की बात भी कहते दिखाई दे रहे हैं, दूसरी तरफ शिवसेना के ही मंत्री संजय राठौड़ समर्थकों की भीड़ और 16 गाड़ियों के काफिले के साथ दर्शन करने पहुंच गए.

बीजेपी विधायक आशीष शेलार का कहना है कि सीएम उद्धव ठाकरे को इस मामले में चुप्पी तोड़नी चाहिए. दूसरी तरफ बीजेपी महिला उपाध्यक्ष चित्रा वाघ ने खुदकुशी केस में संजय राठौड़ के नार्को टेस्ट की मांग की है.

संजय राठौड़ ने सफाई में क्या कहा?

दरअसल, बंजारा समुदाय से आने वाली 22 साल की टिकटॉक स्टार पूजा चव्हाण की 8 फरवरी को कथित तौर सुसाइड से मौत हो गई थी. इस मामले में सोशल मीडिया पर पूजा से जुड़ीं करीब 11 ऑडियो क्लिप वायरल हुई थीं. इन ऑडियो क्लिप संजय राठौड़ और पूजा के एक रिश्तेदार के बीच कथित बातचीत सामने आई. बीजेपी मंत्री की गिरफ्तारी की मांग कर रही है, वहीं सीएम ठाकरे ने जांच के आदेश दिए हैं.

15 दिन बाद सामने आए संजय राठौड़ ने इन आरोपों को झूठा बताया है. उन्होंने कहा कि पूजा चव्हाण के मौत पर उनके साथ उनके परिवार और समाज को बदनाम करने की साजिश रची जा रही है. राठौड़ ने भरोसा जताया है कि मामले की जांच पूरी होने के बाद सच्चाई सामने आएगी और वो निर्दोष साबित होंगे.

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!