प्रियंका गांधी के लखनऊ दौरे से पहले तैयार हुई ‘प्रियंका सेना’

कभी इंदिरा गांधी ने बनाई वानर सेना

Published11 Feb 2019, 02:10 AM IST
पॉलिटिक्स
2 min read

भारत की राजनीति में हर रोज कुछ न कुछ नया और दिलचस्प होता ही रहता है. सोमवार को प्रियंका गांधी 4 दिन के दौरे पर लखनऊ पहुंच रही हैं. कांग्रेस की महासचिव और पूर्वी यूपी की प्रभारी बनने के बाद वो पहली बार यूपी का दौरा करने जा रहीं हैं.

लखनऊ में उनके पहुंचने से पहले एक सेना बन कर तैयार हो गई है, जिसका नाम है प्रियंका सेना’. इनका कहना है कि अगर जरूरत पड़ी तो प्रियंका गांधी के लिए वो जान तक दे देंगे.

इस सेना की पिंक कलर की ड्रेस है, जानिए वजह

प्रियंका सेना की ड्रेस पिंक कलर की है, इसमें टीशर्ट और लोअर है. प्रियंका सेना के कार्यकर्ता बताते हैं कि पिंक कलर की ड्रेस इसलिए बनवाई गई है क्योंकि ये सेना महिलाओं के सम्मान के लिए प्रियंका गांधी के साथ काम करने वाली है. संसद में महिला आरक्षण बिल पास करवाना इस सेना का मकसद है. तो पिंक कलर महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए चुना गया है.

प्रियंका सेना में कितने सदस्य हैं?

प्रियंका सेना में कुल 500 लोग हैं, जो प्रियंका गांधी के लिए जान तक देने की बात करते हैं. प्रियंका सेना का नारा है, ‘‘देश के सम्मान में प्रियंका जी मैदान में, मान भी देंगे सम्मान भी देंगे वक्त पड़ा तो जान भी देंगे.’’

ये सेना लखनऊ में होने वाले राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के रोड शो के दौरान दिखाई देगा. इस सेना के कार्यकर्ता लखनऊ दौरे को सफल बनाने की पूरी तैयारी में जुटे हैं.

कभी इंदिरा गांंधी ने बनाई थी वानर सेना

देश की पूर्व प्रधानमंत्री और प्रियंका की दादी इंदिरा गांधी ने भी एक सेना बनाई थी, जब वो सिर्फ 13 साल की थीं. इंदिरा की सेना का नाम था ‘वानर सेना’. इस सेना का मकसद था कि देश की आजादी के लिए जो आंदोलनकारी हैं उन तक पुलिस की खबरें, सूचनाएं गुप्त तौर से पहुंचाना.

इंदिरा गांधी ने तो वो सेना खुद बनाई थी, मगर इस सेना के बारे में प्रियंका गांधी को अभी तक कुछ पता भी नहीं है. वो खुद इस सेना के बारे में सोमवार को लखनऊ में जानेंगी.

कोरोनावायरस से जारी जंग के बीच तमाम अपडेट्स और जानकारी के क्लिक कीजिए यहां

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram और WhatsApp चैनल से जुड़े रहिए यहां)

क्विंट हिंदी के साथ रहें अपडेट

सब्स्क्राइब कीजिए हमारा डेली न्यूजलेटर को और पाइए खबरें आपके इनबॉक्स में

120,000 से अधिक ग्राहक जुड़ें!