रविदास का मंदिर गिराना अपराध,BJP के अहंकार का मिलेगा जवाब:कांग्रेस
रविदास का मंदिर गिराना अपराध,BJP के अहंकार का मिलेगा जवाब:कांग्रेस
रविदास का मंदिर गिराना अपराध,BJP के अहंकार का मिलेगा जवाब:कांग्रेस(फोटो: पीटीआई)

रविदास का मंदिर गिराना अपराध,BJP के अहंकार का मिलेगा जवाब:कांग्रेस

दिल्ली के तुगलकाबाद में स्थित संत रविदास मंदिर को ढहाने के बाद अब सियासी बवाल शुरू हो चुका है. इसे लेकर विपक्षी दल केंद्र की सत्ता में काबिज बीजेपी सरकार पर हमलावर हैं. अब कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला भी इस बवाल में कूद चुके हैं. उन्होंने ट्वीट कर इसे बीजेपी का अहंकार बताया है और करारा जवाब देने की बात कही है.

Loading...

सुरजेवाला ने बीजेपी पर संत रविदास का अपमान करने का आरोप लगाते हुए ट्विटर पर लिखा,

‘दिल्ली में गुरु रविदास के मंदिर को गिराना अपराध है. सरकार चाहती तो वह अन्य जमीन दे सकती थी या अदालत में रिव्यू दायर कर सकती थी. पर भाजपा सरकार जानबूझ कर रविदास समाज का अपमान कर रही है. हमारी मांग है की रविदास मंदिर का पुनर्निर्माण हो वरना भाजपाईयों को अहंकार का करारा जबाब मिलेगा.’

ये भी पढ़ें : दिल्ली के गांधी नगर मार्केट में भीषण आग, लाखों के नुकसान की आशंका

इस मामले ने तूल तब पकड़ा जब दिल्ली विकास प्राधिकरण (डीडीए) ने अचानक मंदिर को गिरा दिया. मंदिर के गिराए जाने के बाद दिल्ली की सियासत गरम हुई और आम आदमी पार्टी ने इसे लेकर बीजेपी को घेरनी की पूरी कोशिश की. आम आदमी पार्टी के प्रवक्ता सौरभा भारद्वाज ने कहा कि डीडीए दुनियाभर में जमीन बांटता फिर रहा है और अपने नेताओं को जमीन दे रहा है. लेकिन संत रविदास जी के लिए उसके पास जमीन नहीं है. बीजेपी के सारे नेता ऐसे चुप बैठे हैं जैसे डीडीए उनके पास नहीं हो.

उनके अलावा बीजेपी की सहयोगी पार्टी शिरोमणि अकाली दल ने फिर से मंदिर निर्माण की बात कही है. पूरे पंजाब में इसे लेकर कई प्रदर्शन भी हो रहे हैं. लोगों के गुस्से को देखते हुए खुद सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पीएम मोदी से मामले में दखल देने की अपील कर दी.

इस मामले के तूल पकड़ने के बाद डीडीए की तरफ से भी सफाई दी गई. डीडीए ने कहा कि मंदिर जंगल की जमीन पर बनाया गया था. डीडीए की तरफ से कहा गया कि सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार मंदिर को गिराया गया और जगह को खाली कराया गया है.

फिलहाल बीजेपी की तरफ से किसी बड़े नेता ने इस मामले पर बयान नहीं दिया है. लेकिन कई दलों के नेता इस मुद्दे पर बीजेपी सरकार को घेरने की कोशिश में जुट चुके हैं. नेता लगातार मंदिर को दोबारा बनाने की मांग कर रहे हैं.

ये भी पढ़ें : दिल्ली एयरपोर्ट पर बम की अफवाह, 70 मिनट के लिए प्रभावित रहा काम

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

Follow our पॉलिटिक्स section for more stories.

    Loading...